उत्तर प्रदेश के बिजनौर (Uttar Pradesh Bijnor) के नजीबाबाद में कॉलेज के बाहर बुर्का पहनकर लड़कियों के साथ छेड़छाड़ (Molesting) कर रहे युवक को लोगों ने पकड़ लिया. इसके बाद आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया गया.

पुलिस वाले भी काफी देर तक बुर्का पहनने के कारण एक युवक को युवती समझते रहे. इसके बाद उसकी पुरुषों जैसी आवाज सुनी तो बुर्का उतारा गया. तब जाकर पता लगा कि बुर्के में तो युवक है.

बिजनौर पुलिस के अनुसार, पकड़ा गया युवक नजीबाबाद के मोहल्ला पठानपुरा का रहने वाला सुहेल है, जो पिछले 3 दिन से बुर्का, नकाब पहनकर लगातार लड़कियों से छेड़छाड़ कर रहा था. आज शनिवार को भी बस में उसने युवतियों के साथ छेड़छाड़ की. इसके बाद कुछ लोगों ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया.

पुलिस ने आरोपी युवक को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ कर रही है. पकड़े जाने के दौरान काफी देर तक पुलिस भी बुर्का पहने युवक को युवती ही समझती रही. इसलिए मौके पर महिला पुलिस को बुलाना पड़ा, लेकिन जब चौकी में उससे पूछताछ की गई तो उसकी आवाज पुरुषों वाली थी. इसके बाद स्पष्ट हो सका कि वह लड़की नहीं, बल्कि बुर्का पहने हुए लड़का है.

बुर्का उतारने को तैयार नहीं था युवक

इस मामले के खुलासे के बाद पुलिस ने जब उससे बुर्का उतारने को कहा तो वह तैयार नहीं हुआ. बाद में पुलिस ने जबरन उसका बुर्का उतारा. यह युवक बुर्का पहनकर बीते कई दिनों से छेड़छाड़ की घटनाओं को अंजाम दे रहा था. पुलिस अधीक्षक बिजनौर डॉ. धर्मवीर सिंह ने कहा कि पुलिस ने फिलहाल आरोपी युवक को हिरासत में ले लिया है और थाने में उससे पूछताछ की जा रही है. वह बुर्का पहनकर इस तरह की घटना को क्यों अंजाम दे रहा था या इसके पीछे उसका क्या मकसद है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment