सोमवार को संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होगा। सरकार तीनों कृषि कानून को वापस लेने का विधेयक सदन के पटल पर रखेगी। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पहली बार लोकसभा में कृषि कानून निरसन विधेयक 2021 पेश करेंगे।

तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त करने के विधेयक के साथ संसद का शीतकालीन सत्र सोमवार यानि 29 नवंबर से शुरू होने वाला है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पहली बार लोकसभा में कृषि कानून निरसन विधेयक 2021 पेश करेंगे। भले ही सरकार ने तीन कानूनों को निरस्त करने का फैसला किया है, लेकिन संसद का सत्र किसानों की फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानून की मांग को लेकर हंगामेदार रहने की उम्मीद है। विपक्षी दल पहले ही किसानों की मांग का समर्थन कर चुके हैं और इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश करेंगे।सत्तारूढ़ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने अपने सांसदों को उस दिन उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी किया है। इस बीच संसद सत्र की पूर्व संध्या पर 31 दलों के 42 सांसदों ने सर्वदलीय बैठक में भाग लिया। हालांकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठक में शामिल नहीं हुए। महीने भर चलने वाले इस सत्र में 26 विधेयकों को संसद में पेश करने के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा। संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच चलेगा।केंद्र सोमवार को लोकसभा में कृषि कानून निरसन विधेयक 2021 पेश करेगा। विधेयक के सर्वसम्मति से पारित होने की संभावना है और इसे उसी दिन राज्यसभा में पेश किया जा सकता है। इस बीच कांग्रेस ने एमएसपी पर एक कानून और तीन कृषि कानूनों के खिलाफ साल भर के विरोध प्रदर्शन के दौरान मारे गए किसानों के लिए शोक प्रस्ताव की मांग की है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment