12 C
London
Sunday, June 16, 2024

उद्योगपति एलन मस्क ने बताया आखिर ट्विटर से क्यों निकाला भारत के सभी कर्मचारियों को

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

ट्विटर के नए बॉस एलॉन मस्क कंपनी के अधिग्रहण के बाद एक पर एक बड़े फैसले लेते जा रहे हैं. एलॉन मस्क ने ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल समेत चार बड़े अधिकारियों को कंपनी से निकालने के बाद ब्लू टिक वाले अकाउंट होल्डर्स से चार्ज वसूलने का ऐलान किया था. अब ट्विटर में कर्मचारियों की छंटनी चल रही है. ट्विटर ने भारत में कई विभागों की पूरी टीम को ही निकाल दिया है.

एलॉन मस्क ने 7500 कर्मचारियों वाले ट्विटर से 3700 कर्मचारियों यानी करीब 50 फीसदी छंटनी को लेकर पहली बार बयान दिया है. एलॉन मस्क ने ट्वीट कर छंटनी के फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने अपने ट्वीट में छंटनी के फैसले का कारण भी बताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि कंपनी को हर दिन चार मिलियन डॉलर (32,77,95,800 भारतीय रुपये) से अधिक का नुकसान हो रहा है.

एलॉन मस्क ने कहा है कि ऐसे में उनके पास कार्यबल में कटौती के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं था. उन्होंने ये भी कहा है कि जिन लोगों की छुट्टी हुई है, उन्हें तीन महीने के वेतन की पेशकश की गई थी जो कानूनी रूप से जरूरी वेतन से 50 फीसदी अधिक है. कानूनी रूप से किसी कर्मचारी को नौकरी से निकाले जाने की स्थिति में दो महीने का वेतन देना होता है.

ट्विटर ने भारत में काम कर रहे अपने ज्यादातर कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है. कंपनी ने भारत में कई विभागों की पूरी टीम को ही बर्खास्त कर दिया है. भारत में ट्विटर ने सेल्स, मार्केटिंग और कंटेंट क्यूरेशन जैसे विभागों की पूरी टीम को ही बर्खास्त कर दिया था. भारत में ट्विटर के 200 से अधिक कर्मचारी कार्यरत थे. ट्विटर ने सभी बैज एक्सेस अस्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया था.

एलॉन मस्क ने ट्विटर की आय में आई गिरावट और कंपनी को हो रहे भारी नुकसान के लिए एक्टिविस्ट ग्रुप्स पर ठीकरा फोड़ा है. एलॉन मस्क ने ट्वीट कर कहा था कि एक्टिविस्ट ग्रुप्स ने ट्विटर को विज्ञापन देने वालों पर भारी दबाव बनाया. इससे कंपनी की आय में भारी कमी आई. उन्होंने ये भी कहा कि हमने एक्टिविस्ट ग्रुप्स को खुश करने के लिए सबकुछ किया. कंटेंट की निगरानी से भी कुछ नहीं बदला.

एलॉन मस्क ने 44 अरब डॉलर में हुई डील के बाद ट्विटर का अधिग्रहण किया था. ट्विटर की कमान संभालने के तुरंत बाद ही मस्क ने कंपनी के सीईओ पराग अग्रवाल के साथ ही सीएफओ और दो अन्य अधिकारियों को उनके पद से हटा दिया था. इसके बाद ट्विटर में छंटनी का दौर शुरू हुआ.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img