दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क अब ट्विटर के नए मालिक बन गए हैं। मस्क और ट्विटर के बीच यह डील करीब 44 बिलियन डॉलर में हुई है, जिसके बाद 16 साल पुरानी सोशल मीडिया कंपनी एक प्राइवेट कंपनी में बदल जाएगी। डील के बाद एलन मस्क की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया कि “बोलने की आजादी किसी भी लोकतंत्र के क्रियान्वयन के लिए रीढ़ की हड्डी होती है। ट्विटर डिजिटल टाउन स्क्वायर है जहां मानवता के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण मामलों पर बहस होती है।”

ट्विटर का अधिग्रहण एलन मस्क की ओर से 54.20 डॉलर प्रति शेयर पर किया गया है। यह कैश डील होगी, जिसकी वैल्यू करीब 44 बिलियन डॉलर है। इस डील को ट्विटर के बोर्ड की ओर से मंजूरी मिल चुकी है और 2022 के यह डील पूरी हो जाएगी। हालांकि, अभी इस डील को ट्विटर के शेयरधारकों से मंजूरी मिलना बाकी है।

ट्विटर का भविष्य अनिश्चित: इस डील के बाद सीईओ पराग अग्रवाल ने कहा कि फिलहाल कंपनी से किसी को भी निकालने की योजना नहीं है लेकिन इस डील के पूरी होने के बाद जब कंपनी मस्क के हाथ में होगी। उसके बाद कुछ कहा नहीं जा सकता है। समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बातचीत करते हुए अग्रवाल ने कहा, “डील पूरी होने के बाद कोई नहीं जनता कंपनी किस दिशा में जाएगी”

ट्विटर में जोड़े जाएंगे नए फीचर्स: मस्क ने इस डील के बाद कहा कि मैं ट्विटर को पहले से कहीं अधिक बेहतर बनाना चाहता हूं। इसमें कई नए फीचर्स, लोगों का विश्वास बढ़ाने के लिए एल्गोरिदम को ओपन सोर्स किया जाएगा। ट्विटर में विकास की काफी संभावना है मैं कंपनी और इसके यूजर्स के साथ काम करने की आशा करता हूं।

सभी को मिलेगा ब्लू टिक: एलन मस्क की योजना ट्विटर से स्पैम बॉट्स को खत्म करने के लिए सभी मानव उपयोगकर्तों को ब्लू टिक देने की हैं। बता दें, मौजूदा समय में ट्विटर पर केवल मशहूर या फिर किसी बड़ी संस्था से ताल्लुक रखने वालों को ब्लू टिक दिया जाता है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment