बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस सायरा बानो ने फिल्म ‘जंगली’ से इंडस्ट्री में कदम रखा था। इसके बाद वह कई हिट फिल्मों में भी नजर आई थीं, लेकिन दिलीप कुमार से शादी के बाद सायरा बानो ने इंडस्ट्री को अलविदा कहने का फैसला कर लिया था। सायरा बानो बचपन से ही दिलीप कुमार की फैन थीं और एक्टर से वह इस कदर प्यार करती थीं कि एक बार उन्होंने मुमताज से कहा था कि अगर साहब मर गए तो मैं भी मर जाऊंगी। सायरा बानो से जुड़ी इस बात का खुलासा मुमताज ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में किया था।

दिलीप कुमार और सायरा बानो से जुड़ा किस्सा सुनाते हुए मुमताज ने कहा था, “सायरा जी ने पूरी जिंदगी अपने पति दिलीप कुमार के नाम कर दी। वह उनका बिल्कुल मां की तरह ख्याल रखती थीं। उनकी सेवा में वो अपने आप को बिल्कुल भूल गई थीं। जब मैं और मेरी बहन उनसे मिलने गए थे तो उन्होंने हमसे कहा था, ‘युसुफ साहब मर जाएंगे तो मैं भी मर जाऊंगी, क्या करूंगी मैं उनके बाद।”

बता दें कि मुमताज ने दिलीप कुमार के साथ फिल्म ‘राम और श्याम’ में काम किया था। इंटरव्यू में दिलीप कुमार और सायरा बानो से जुड़ा किस्सा साझा करते हुए मुमताज ने आगे कहा था, “जब मैं दिलीप साहब से मिलने गई थी तो चाय के साथ उन्होंने स्वादिष्ट खाने भी परोसे थे। दिलीप साहब ड्राइंग रूम में आए और सायरा जी ने ‘राम और श्याम’ चला दी।”

मुमताज़ ने इस बारे में आगे कहा, “सायरा बानो ने दिलीप साहब से कहा, ‘देखिए आपकी एक्ट्रेस आई हैं आपसे मिलने।’ जो खाना सायरा जी ने हमें परोसा था, वह वाकई में बहुत स्वादिष्ट था और दिलीप साहब भी खाने को देखकर खुद पर कंट्रोल नहीं कर पा रही थीं।” बता दें कि दिलीप कुमार ने इसी साल 7 जुलाई को इस दुनिया को अलविदा कह दिया था।

दिलीप कुमार के निधन के बाद अपनी सालगिरह के मौके पर सायरा बानो ने उन्हें एक लेख के जरिए याद किया। अपने लेख में सायरा बानो ने कहा था कि हम आज भी ख्यालों में एक-दूसरे के साथ हाथ में हाथ डाले चलते हैं। बता दें कि एक्टर के निधन के बाद सायरा बानो की भी तबीयत काफी खराब हो गई थी।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment