ऐसी कौन सी ज़गह है जहाँ नमाज़ नही पढ़ सकते है ?,99% लोग नही जानते ज़वाब ,देखने के लिए..

धर्मऐसी कौन सी ज़गह है जहाँ नमाज़ नही पढ़ सकते है ?,99% लोग नही जानते ज़वाब ,देखने के लिए..

आज हम आपके सामने इस्लामिक कुछ ऐसे सवाल का जवाब देंगे जो बहुत आम बात है लेकिन उसके जवाब अक्सर लोग नही जानते हैं इसको पूरा पढ़े और दोसरो को भी फॉरवर्ड करें क्योंकि अच्छी बात आगे बढ़ाना भी सदका है ।


पहला सवाल -किस शख्स को सदका देने से दो गुना सवाब मिलता है ?
जवाब -इस सवाल का जवाब है रिश्तेदार को.सदके पर पहला हक़ रिश्तेदार का है.अगर रिश्तेदारी में कोई ग़ुरबत में है तो उसका सदके पे पहला हक है और नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने इरशाद फरमाया है कि जो शख्स अपने रिश्तेदार को सदका देता है उसका सवाब दोगुना हो जाता है।

दुसरा सवाल -कौन से नबी तीस साल तक गैर मुस्लिम के घर रहे?
जवाब -इस सवाल का जवाब है हज़रत मूसा अ.स.,हजरत मूसा अ.स. का बचपन से जवानी तक फिरोन के घर पर बीता था
तीसरा सवाल -कुराने पाक इंसान के अलावा किसके लिए नाज़िल हुआ ?
जवाब-इसका जवाब है कुराने पाक इंसानों के अलावा जिन्नातो के लिए भी नाज़िल हुआ है।

चौथा सवाल -हजरत नुह अ.स. की कश्ती में सवार होने वाला पहला परिंदा कौन था ?
जवाब -दोस्तों इस सवाल का जवाब है हजरत नुह अ.स. की कश्ती में सवार होने वाला पहला परिंदा तोता था.
पाचवा सवाल -वो कौन से सहाबी थे जिनकी शहादत के बाद उनकी मय्यत को ज़मीन निगल गयी थी ?
जवाब-हजरत खुबेब बिन उदी ऐसे सहाबी है जिनकी शहादत के बाद उनकी मय्यत को ज़मीन निगल गयी थी।

छठा सवाल -मिया बीबी की कौन सी गलती से निकाह टूट जाता है ?
जवाब-दोस्तों अगर मियां और बीबी में से किसी ने एक अपना दीन बदल लिया तो निकाह टू’ट जाता है अगर सुरत ऐसी हो कि बीबी इ’साई या य’हूदी हो जाए तब निकाह कायम रह सकता है.अगर औरत इस्लाम का ऐतराम करे .अगर मर्द अपना दीन बदल के कोई और मज़हब में दाखिल हो जाए फिर निकाह टू’ट जाता है।

सातवा सवाल-किस ज़गह पे नमाज़ नही पढ़ सकते है ?
जवाब-बहुत कम लोग इस सवाल का जवाब जानते है.काबे की छत पे नमाज़ नही पढ़ी जा सकती है अगर कोई पढ़ेगा तो अदा हो जाएगी लेकिन मकरूह तहरीमी है ।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles