लाहौर.  पाकिस्‍तान (pakistan) के प्रधानमंत्री (Prime minister) इमरान खान (PM Imran Khan)  ने भारत (India) की जमकर तारीफ करते हुए कहा है कि पाकिस्‍तान पीछे रह गया और भारत तरक्‍की करता चला गया. उन्‍होंने कहा कि भारत ने आईटी मार्केट में तेजी से तरक्‍की की जबकि वह 15 से 20 साल पहले ही इस क्षेत्र में आया था. वहीं पाकिस्‍तान भारत के मुकाबले बहुत पीछे है. उन्‍होंने लाहौर में स्‍पेशल टेक्‍नोलॉजी जोन टेक्‍नोपोलिस का उद्घाटन करते हुए यह बात कही है.

प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि पाकिस्तान अपने क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वियों से काफी पीछे हो गया है. उन्‍होंने खास तौर पर भारत का उल्‍लेख किया और कहा कि आईटी क्षेत्र में भारत ने फोकस किया और वह तेजी से तरक्‍की करता आगे बढ़ गया. बीबीसी के अनुसार, उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान इतने महत्‍वपूर्ण क्षेत्र पर अपना ध्‍यान केंद्रित नहीं कर सका. इसी का परिणाम है कि हम पीछे रह गए और पाकिस्‍तान से पीछे रहने वाले देश भी  उससे कहीं आगे निकल गए.

इमरान खान ने कहा कि भारत का आईटी निर्यात 150 अरब डॉलर का हो गया है, जबकि पाकिस्‍तान का केवल दो अरब डॉलर का ही है. उन्‍होंने कहा कि हमारी बदकिस्‍मती है कि हमने निर्यात बढ़ाने पर ध्‍यान नहीं दिया. उन्‍होंने कहा कि 1960 में रही वैश्विक इकोनॉमी के लिहाज से पाकिस्‍तान की जो स्थिति थी, आज उसकी तुलना में हम पीछे रह गए हैं. उस वक्‍त जो देश हमसे भी पीछे थे, वे देश पाकिस्‍तान से कहीं आगे निकल गए हैं.

उन्होंने कहा कि पाकिस्‍तान के लिए अभी अनंत संभावनाएं हैं. अभी भी इस सेक्‍टर में आगे बढ़ने का मौका है. उन्‍होंने जोर देकर कहा कि सरकार कदम उठा रही है, कि हम आईटी सेक्‍टर के तेजी से विकास कर सकें. इमरान खान ने कहा कि हम तेजी से आईटी क्रांति की दिशा में आगे जा सकते हैं, जिस ओर ये दुनिया जा रही है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment