6.4 C
London
Sunday, April 21, 2024

गांधी जी को अपशब्द कहने पर तरुण मुरारी बापू पर FIR,जानें बापू को लेकर नरसिंहपुर में क्या कहा

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर कालीचरण महाराज द्वारा कहे गए अपशब्दों का मामला अभी थमा नहीं था कि एक और बाबा ने महात्मा गांधी को लेकर विवादित बयान दिया है। मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर में सोमवार को भागवत कथा वाचक तरुण मुरारी बापू ने महात्मा गांधी को देशद्रोही बताया है। इस मामले में तरुण मुरारी बापू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

तरुण मुरारी बापू ने नरसिंहपुर में एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘”गांधी ने देश को विभाजित किया, वह एक देशद्रोही थे।” तरुण मुरारी बापू ने कहा, ”महात्मा गांधी न तो महात्मा है और न ही राष्ट्रपिता हो सकते हैं। उन्होंने जीते-जी देश के टुकड़े कर दिए, उन्हें देशद्रोही कहा जाना चाहिए।” उनके इस बयान पर कांग्रेस ने आपत्ति दर्ज कराते हुए पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन दिया था और इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी।

इस मामले में अब जिला प्रशासन द्वारा थाना स्टेशन गंज में 153, 504, 505 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं, तरुण मुरारी बापू से उनके बयान को लेकर जब सवाल किया गया तो उन्होंने कहा वह अपनी बात पर कायम हैं। ये मामला नरसिंहपुर के छिंदवाड़ा रोड पर वीरा लॉन की भागवत पंडाल के दौरान का है।

इसके पहल, कालीचरण महाराज ने छत्तीसगढ़ के रायपुर में आयोजित धर्म संसद के दौरान महात्मा गांधी को अपशब्द कहे थे और उनकी हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे की तारीफ की थी। इस मामले में कालीचरण के खिलाफ विभिन्न राज्यों में मामले दर्ज हुए थे। कालीचरण को बाद में मध्य प्रदेश से गिरफ्तार किया गया। कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी के बाद से कई हिंदूवादी संगठन उनकी रिहाई की मांग कर रहे हैं।

वहीं, महात्मा गांधी को लेकर कहे गए अपशब्दों पर कालीचरण महाराज ने कहा था, “मुझे महात्‍मा गांधी को गाली देने पर कोई खेद नहीं है। अगर मुझे फांसी भी मिल जाए तो मैं भी मैं अपने सुर नहीं बदलूंगा। एफआईआर से मेरे ऊपर कोई असर नहीं पड़ने वाला। मैं गांधी विरोधी हूं और इसके लिए फांसी भी मिलेगी तब भी मुझे मंजूर है।”

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here