[email protected]

कंगना रनौत का ‘आजान’ की तारीफों वाला वीडियो वायरल

- Advertisement -
- Advertisement -

अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहने वाली कंगना रनौत अपने एक पुराने वीडियो को लेकर फिर से चर्चा में आ गई हैं। बता दें कि फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वो कहती दिख रही हैं कि उन्हें अजान पसंद है। कंगना के इस वायरल वीडियो पर सोशल मीडिया पर लोगों की खूब प्रतिक्रिया भी आ रही है। लोगों का कहना है कि यह आजादी मिलने से पहले वाली कंगना हैं।

दरअसल हाल ही में एक निजी न्यूज चैनल के कार्यक्रम में कंगना रनौत ने कहा था कि भारत को 1947 में मिली आजादी भीख की तरह थी। देश को असली आजादी 2014 में मिली है। इस बयान को लेकर कंगना की चारों तरफ से आलोचना हुई। वहीं अब कंगना के एक पुराने वीडियो को लेकर लोग उनपर तंज कस रहे हैं।

बता दें कि करीब चार साल पहले अजान को लेकर गायक सोनू निगम के विवाद पर कंगना रनौत से एक कार्यक्रम में जब राय मांगी गई थी तो उन्होंने कहा था कि मैं किसी और के बारे में तो नहीं जानती लेकिन मुझे अजान बहुत पसंद है। इसी बयान की क्लिप अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसको लेकर लोग कंगना द्वारा हाल ही में दिए बयानों से जोड़कर तंज कस र

एक यूजर(@Cryptic_Miind) ने इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, “आजादी मिलने से पहले वाली कंगना”। वहीं एक और यूजर शाहनवाज असलम(@ShahnawazAslamm) ने तंज कसते हुए लिखा कि मोदी जी कम तकलीफ दें रहे हैं जो अब ये भी आ गईं, ये दर्द ख़त्म क्यूं नहीं होता

इसके अलावा जगदीश सोलंकी(@iJagdishSolanki) ने लिखा, “बदलते हुए हालात और अपने फ़ायदे के लिए अपना रंग बदलते रहते इस प्राणी को आप “गिरगिट” बोल सकते हैं।”

बता दें कि कंगना रनौत द्वारा आजादी को लेकर दिए बयान के बाद सिख विरोधी टिप्पणी को लेकर जौनपुर में शिकायत दर्ज कराई गई है। इस मामले में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने कंगना की गिरफ्तारी की मांग की है। इसके अलावा मुंबई में खार पुलिस थाना में भी उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है।

कंगना के खिलाफ की गई शिकायत में कहा गया है कि रनौत ने सिख समुदाय के खिलाफ बेहद अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया। उन्होंने कहा था सिखों को उनके (इंदिरा गांधी के) जूतों के नीचे कुचल दिया गया था। शिकायत में कहा गया कि कंगना का यह बयान सबसे अपमानजनक, और तिरस्कारपूर्ण है।

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×