कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली की सीमाओं पर पिछले 2 महीने से ज्यादा समय से धरना दे रहे हैं। ऐसे में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को भी बॉर्डर पर तैनात किया गया है। ये तैनाती पहले भी थी लेकिन 26 जनवरी की घटना के बाद सुरक्षाकर्मियों की संख्या काफी बढ़ा दी गई है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस के जवानों का जोश कायम रखने के लिए दिल्ली पुलिस ने सिंघु बॉर्डर पर कई जगहों पर डीजे भी लगाए हैं जिसमें ‘संदेशे आते हैं’ जैसे देशभक्ति गाने भी बजाए जा रहे हैं। 

केंद्र से बात करने से पहले किसान मंजदूर संघर्ष समिति अब एक ये भी शर्त रखी है कि इन लाउडस्पीकर्स को बंद किया जाए। दिल्ली पुलिस द्वारा सिंघु बॉर्डर पर गाने बजाए जाने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। किसानों का कहना है कि डीजे की वजह से उन्हें समस्या हो रही है।

किसान यूनियन ने ये भी मांग रखी है कि दिल्ली पुलिस उन किसानों को रिहा करे जिन्हें गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा के बाद गिरफ्तार किया गया था। साथ ही पानी की फिर से पर्याप्त व्यवस्था, वॉशरूम और इंटरनेट सर्विस भी शुरू करने की मांग किसान नेताओं ने रखी है।

गौरतलब है कि सोमवार को सिंघु बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा और कड़ी कर दी। सड़क पर सीमेंट के अवरोध लगा दिए गए। साथ ही सड़क के दोनों ओर सरिया और नुकीली कीलें लगा दी गई ताकि किसान अगर किसी वाहन के द्वारा दिल्ली में घुसने की कोशिश करें तो कामयाब नहीं हो सकें।

साथ ही ब्लेडनुमा तार भी लगाए गए। कुल मिलाकर कई लेयर की सुरक्षा व्यवस्था पुलिस कर चुकी है। बॉर्डर पर रोड रोलर भी अब खड़े कर दिए गए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *