यूपी में गुरुवार को ब्लॉक प्रमुख चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिए किए गए। इस दौरान कुछ स्थानों पर भाजपा और समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट और भिड़ंत हो गई। इस दौरान दोनों पक्षों में फायरिंग हुई और देसी बम भी फोड़े गए। आरोप है कि मौके पर मौजूद पुलिस कर्मी इस दौरान उनको रोकने और कार्रवाई करने के बजाए मौके से भाग निकले। घटना में कई लोगों के घायल होने की भी सूचना है।

राज्य के सीतापुर, श्रावस्ती, अंबेडकरनगर समेत कई शहरों में हिंसा की घटनाएं हुईं। राज्य के सीतापुर जिले में नामांकन के दौरान भाजपा और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में जमकर मारपीट हुई। आरोप है कि दोनों पक्ष एक-दूसरे को नामांकन पत्र भरने नहीं दे रहे हैं। इस दौरान किसी ने हवा में गोलियां चला दीं। इसके बाद वहां भगदड़ जैसी स्थिति मच गई। दोनों दलों के कार्यकर्ता एक-दूसरे पर हमले का आरोप लगाते हुए पत्थरबाजी करने और गोलियां चलानी शुरू कर दी। कुछ लोगों ने इस दौरान देसी बम फोड़ने लगे। इससे अफरातफरी मचने पर कई लोग वहीं गिर पड़े।

हिंसा और मारपीट में कुछ लोगों के सिर, हाथ-पैरों में गंभीर रूप से चोटें आ गईं। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी बम चलने और लोगों के घायल होने पर कार्रवाई करने के बजाए वहां से भाग निकले। इस घटना का कई लोगों ने वीडियो भी बना लिया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

घटना का वीडियो वायरल हुआ तो लोगों में आक्रोश फैल गया। लोगों ने घटना को लेकर पुलिस के गैरजिम्मेदारान रवैए की निंदा की। ऐसी घटनाए केवल सीतापुर में ही नहीं हुई। राज्य के दूसरे शहरों में भी हिंसा हुई है। इस बीच गुरुवार को ही ब्लाक प्रमुख के नामांकन का कार्य पूरा हो गया। शुक्रवार को नाम वापसी और शनिवार को मतदान और उसी नदि गिनती के बाद परिणाम की घोषणा की जाएगी।

अभी हाल ही में यूपी में पंचायत चुनाव कराए गए थे। इस दौरान भी कई जिलों में जमकर हिंसा की घटनाएं हुई थीं। चुनावों में सत्तारूढ़ भाजपा को भारी सफलता मिली थी। उसके अधिकतर प्रत्याशी जीतने में सफल रहे थे।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment