कंधार. अफगानिस्‍तान (Afghanistan) पर कब्‍जे के बाद तालिबान ने सरकार बनाने का रोडमैप भी दुनिया के सामने रख दिया है. तालिबान के सह-संस्थापक मुल्‍ला अब्‍दुल गनी बरादर (Mullah Abdul Ghani Baradar) अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति होंगे. बरादर मंगलवार शाम को कतर से कंधार शहर पहुंचे. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि मुल्‍ला बरादर सी-17 महाबली विमान से कंधार पहुँचते है और कमांडो की सुरक्षा घेरे में एयरपोर्ट से निकलते है. इस दौरान तालिबान के लड़ाके ताली बजाकर और हथियार लहराकर उनका जोरदार स्वागत करते हैं.

मुल्‍ला बरादर के काफिले का वीडियो सोशल मीडिया में शेयर किया जा रहा है. इसमें नजर आ रहा है कि कई गाड़‍ियां कंधार हवाई अड्डे से शहर की ओर जा रही हैं. इस दौरान हूटर बज रहे हैं. कंधार को तालिबान आंदोलन का जन्मस्थान कहा जाता है. बरादर के स्‍वागत में शहर में कई जगह तालिबानियों ने पटाखे फोड़े हैं. बता दें कि मुल्ला बरादर ने ही अपने बहनोई मुल्ला उमर के साथ मिलकर तालिबान की स्थापना की थी.

कंधार में तालिबानियों ने पटाखे फोड़े
तालिबान के प्रवक्‍ता ने भी पुष्टि की है कि मुल्‍ला बरादार कंधार शहर पहुंच गए है. बरादर तालिबान के नेताओं के अलावा पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई और अब्दुल्ला अब्दुल्ला के साथ बैठक करेंगे.

बरादर पाकिस्तानी जेल में 8 साल रहे कैद
तालिबान के सह-संस्थापक और मुल्ला उमर के सबसे भरोसेमंद कमांडरों में से एक मुल्ला अब्दुल गनी बरादर को 2010 में पाकिस्तान के कराची में गिरफ्तार कर लिया गया था, लेकिन, डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश और तालिबान के साथ डील होने के बाद पाकिस्तान ने 2018 में रिहा कर दिया था

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment