वाशिंगटन, 26 फरवरी (भाषा) विश्व बैंक के भारत प्रमुख जुनैद कमाल अहमद को ऋण देने के इस अंतरराष्ट्रीय संस्थान का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। 

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, अहमद उपाध्यक्ष, ऑपरेशंस के तौर पर बहुपक्षीय निवेश गारंटी एजेंसी (एमआईजीए) का नेतृत्व करेंगे। वह दूसरे बांग्लादेशी नागरिक हैं जिन्हें विश्व बैंक के इतिहास में इतने बड़े पद पर नियुक्त किया गया है। अहमद 18 अप्रैल से नया पद संभालेंगे।

फैसल चौधरी पहले बांग्लादेशी नागरिक थे जो ऑपरेशंस, उपाध्यक्ष बने थे।

अहमद ने एक साक्षात्कार में पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हमारी (विश्व बैंक) भारत के साथ साझेदारी दुनियाभर की चीजों को सीखने और साझा करने दे रही है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जैसे ही भारत का आर्थिक विकास होता है तो वैश्विक वृद्धि और गरीबी पर असर सबसे अहम है।’’

अहमद सितंबर 2016 से भारत में विश्व बैंक के निदेशक रहे हैं।

उन्होंने कहा कि विकास को वित्तपोषण देने में चुनौती दीर्घकालीन पूंजी बाजार को जुटाने में है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप विकास की चुनौतियों को देखे, चाहे वह महामारी से निपटना हो, जलवायु परिवर्तन से निपटना या बुनियादी ढांचे से निपटना हो, इन सभी में दीर्घकालीन धन की आवश्यकता होगी।’’

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment