अलीगढ़. यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह के निधन (Kalyan Singh Death) पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के कुलपति तारिक़ मंसूर (Taroq Mansoor) ने शोक जताया तो कैंपस में नया विवाद खड़ा हो गया. यूनिवर्सिटी कैंपस में कुलपति के विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं, जिसमें कहा गया है कि उन्होंने शोक व्यक्त कर छात्रों की भावनाओं को आहत किया है.

दरअसल, 22 अगस्त को कुकपाटी तारिक मंसूर ने कल्याण सिंह के निधन पर शोक संदेश भेजा था. जिसके विरोध में कुछ छात्रों ने पोस्टर लगाकार उनकी निंदा की है.

हिंदी, इंग्लिश और उर्दू में लगाए गए पोस्टर्स में कहा गया है कि एएमयू कुलपति द्वारा कल्याण सिंह के निधन पर शोक व्यक्त करना शर्मनाक है, क्योंकि कल्याण सिंह बाबरी विध्वंस की घटना में मुख्य पात्रों में से थे. इतना ही नहीं शोक संवेदना व्यक्त कर कुलपति ने  समुदाय बल्कि यूनिवर्सिटी की भावनाओं को भी आहत किया है.

कुलपति की शोक संवेदना ने न केवल पूरे अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के छात्रों को शर्मिंदा किया है बल्कि इसकी ऐतिहासिक परम्पराओं को भी ठेस पहुंचाया है जो न्याय और निष्पक्षता में विश्वास .रखती है. यूनिवर्सिटी के छात्र कुलपति के इस शर्मनाक व्यवहार की निंदा करते हैं. कुलपति ने एक ऐसे पार्टी के नेता  सपोर्ट किया है जो अपने निहित स्वार्थ फासिज्म का समर्थन करती है.

AMU ने कहा बाहरी तत्वों की शरारत
हालांकि, जो पोस्टर लगाए गए हैं, उस पर किसी संगठन या छात्र का नाम नहीं है. लेकिन कुछ छात्रों ने इसका समर्थन किया है. इस विवाद पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के प्रबंधन का कहना है कि फ़िलहाल कैंपस बंद है. इसके पीछे किसी बहरी शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment