कतर एयरवेज का बॉयकॉट करने वाला वीडियो बनाकर डालने वाले वासुदेव के साथ हुआ बुरा

अजब गजबकतर एयरवेज का बॉयकॉट करने वाला वीडियो बनाकर डालने वाले वासुदेव के साथ हुआ बुरा

हाल ही में कतर एयरवेज (Qatar Airways) के बहिष्कार की मांग वाला वीडियो बनाकर चर्चा में आए ट्विटर यूजर वासुदेव का ट्विटर (Twitter) अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है. वासुदेव ने अपने वीडियो में कहा था कि एमएफ हुसैन को नागरिकता देने वाला कतर नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के बयान पर भारत को ज्ञान दे रहा है.

वासुदेव ने लोगों से कतर एयरलाइंस और कतर के सामान का बहिष्कार की अपील की थी.

इसके बाद वासुदेव के उस वीडियो को एक अन्य यूजर ने रीट्वीट करते हुए कतर एयरवेज के सीईओ अकबर अल बकर (Akbar Al Baker) का एक पुराना इंटरव्यू शेयर किया था. इंटरव्यू वाले वीडियो को हास्यास्पद तरीके से एडिट करके वासुदेव की कतर एयरवेज के बहिष्कार की मांग से जोड़ा गया था. ये मजाकिया वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, वहीं कुछ लोग उस वीडियो को असली मान बैठे थे, जिसमें एक्ट्रेस कंगना रनौत भी शामिल हैं.

कतर एयरवेज बॉयकॉट की मांग कैसे उठी?

दरअसल बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद पर विवादित बयान के बाद क़तर ने इस मामले में भारत सरकार से माफ़ी की मांग की थी. इससे भारत में लोग नाराज हो गए. भारत के सोशल मीडिया यूज़र्स का एक वर्ग ट्विटर पर कतर एयरवेज के बॉयकॉट की मांग करने लगा. लेकिन, इस सब के बीच ये मांग मजाक का विषय बन गया. वजह ये थी कि जिस हैशटैग ‘BycottQatarAirways’ को ट्रेंड किया गया, उसमें बॉयकॉट (Boycott) की स्पेलिंग ही गलत थी.

ट्विटर यूजर वासुदेव ने भी #BycottQatarAirways के साथ ट्वीट किया,

जाने क्या बोला वीडियो में

‘ये वही कतर है जिसने एमएफ हुसैन को नागरिकता दी थी. एमएफ हुसैन ने हमारी माता सीता और माता दुर्गा की नग्न तस्वीर बनाई थी. आज वो नूपुर शर्मा के बयान पर भारत को ज्ञान दे रहा है. कतर ने अपने यहां भारतीयों को नौकरी से निकालना शुरू कर दिया है, इसलिए आप लोग भी कतर एयरलाइंस और कतर के सामान का बहिष्कार कीजिए. जैसे को तैसे वाला जवाब दिया जाना जरूरी है, ईंट का जवाब पत्थर से मिलेगा.

फिर कतर एयरवेज के सीईओ का एडिटेड वीडियो आया

वासुदेव के इस वीडियो को अहद नाम के ट्विटर यूजर ने रीट्वीट करते हुए कतर एयरवेज के सीईओ अकबर अल बकर का एक पुराना इंटरव्यू शेयर किया. अल बकर के इस पुराने वीडियो इंटरव्यू को एडिटिंग के बाद शेयर किया गया था. वीडियो में बोलते हुए तो अकबर अल बकर ही दिख रहे हैं, लेकिन इसमें तकनीक के जरिए उनकी आवाज को रिप्लेस कर दिया गया है. वीडियो को इस तरह से एडिट किया गया, जिसे देखकर लगता है कि अकबर अल बकर खुद वासुदेव से बॉयकॉट वापस लेने की विनती कर रहे हों.

वीडियो देख लगता है कि अल बकर कह रहे हों,

‘वासुदेव हमारी कम्पनी (कतर एयरवेज) के सबसे बड़े शेयर होल्डर हैं. उन्होंने हमारी कम्पनी में 624 रुपए 50 पैसे का बड़ा इंवेस्टमेंट किया है. उनके बॉयकॉट की वजह से अब हमें समझ नहीं आ रहा कि हम कैसे अपना बिजनेस करेंगे, क्योंकि हमारी सभी फ्लाइट्स जमीन पर आ गई हैं, सभी काम रुक गए हैं. इसलिए हम वासुदेव से विनती करते हैं कि वे बॉयकॉट का अपना निर्णय वापस लें. ये एक नए तरह का और एक अलग लेबल का बॉयकॉट है जिसकी स्पेलिंग ‘bycott’ है. वासुदेव जी हमारी इच्छा आपको एक नया प्लेन देने की है जिसमें आप अपने टिक टॉक वीडियो बना सकेंगे. आप हमसे दो लीटर पेट्रोल भी फ्री ले सकते हैं. वासुदेव जी, अब आप अपना बॉयकॉट का ऐलान वापस ले लीजिए, वर्ना हम कैसे सर्वाइव करेंगे.’

ये साफ हो गया था कि इस इंटरव्यू वाले वीडियो को मजे लेने के लिए एडिट किया गया है, हालांकि ट्विटर ने नियमों का उल्लंघन करने को लेकर वासुदेव के साथ ही अहद का ट्विटर अकाउंट भी सस्पेंड कर दिया है.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles