उत्तरप्रदेश: घटिया मैटेरियल की शिकायत करने वाले विधायक पर ही केस दर्ज

राज्यउत्तरप्रदेशउत्तरप्रदेश: घटिया मैटेरियल की शिकायत करने वाले विधायक पर ही केस दर्ज

दो दिन पहले यूपी के एक विधायक का वीडियो वायरल हो रहा था, जिसमें वे एक निर्माणाधीन इमारत की दीवार को हाथ से धक्का मारकर गिरा देते हैं. समाजवादी पार्टी के इन विधायक का नाम आरके वर्मा है. आरके वर्मा प्रतापगढ़ की रानीगंज सीट से विधायक हैं. खबर है कि आरके वर्मा और उनके समर्थकों के खिलाफ नोएडा की एक कंपनी ने मामला दर्ज कराया है. दीवार को गिराने का वीडियो खुद विधायक ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया था. उन्होंने कहा था कि इमारत को घटिया क्वालिटी के मैटेरियल से बनाया जा रहा है.

विधायक के आरोप

दरअसल, रानीगंज विधानसभा के शिवसत इलाके में राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज का निर्माण चल रहा है. बीती 24 जून को सपा विधायक अपने कुछ साथियों के साथ निर्माणाधीन इमारत देखने पहुंचे. आरके वर्मा का आरोप है कि निर्माण में घटिया सामग्री इस्तेमाल की जा रही है. इसलिए वो वहां गए थे. वहां पहुंचकर उन्होंने नवनिर्मित दीवार को धकेला, तो वो गिर पड़ी. इस वीडियो को विधायक आरके वर्मा ने अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट भी किया है.

सपा विधायक के खिलाफ मामला दर्ज 

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, शिवसत इलाके में बन रहे राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज के निर्माण का टेंडर नोएडा की अमरोंन्ट्रास इंफ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को दिया गया है. शनिवार, 25 जून को मुख्यमंत्री प्रतापगढ़ में थे. उनके जाते ही कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर इरशाद अहमद ने सपा विधायक और उनके समर्थकों की शिकायत प्रतापगढ़ के कंधई थाने में की. इरशाद अहमद की तहरीर पर पुलिस ने विधायक और उनके समर्थकों के खिलाफ सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम की धारा 2 और 3 के अलावा IPC की धारा 147, 504, 506, 427 और 353 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है.

इसके अलावा इरशाद अहमद का आरोप है कि विधायक अपने भाई और 40-50 समर्थकों के साथ साइट पर आए. उन्होंने एक ताजा बनी दीवार को हिलाया, जिससे उसमें दरार आ गई, इसके बाद उन्होंने धक्का मारकर इसे गिरा दिया. साथ ही विधायक ने मौके पर काम कर रहे मजदूरों और कंपनी के कर्मचारियों को गालियां दीं और जान से मारने की धमकी भी दी. इससे वहां काम करने वाले कर्मचारियों में डर का माहौल है. और कोई भी काम करने को तैयार नहीं है. फिलहाल विधायक की तरफ से अभी इस शिकायत पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles