[email protected]

UP Elections 2022: अखिलेश यादव के साथ गठबंधन के लिए ओवैसी तैयार,रखी बस एक शर्त

- Advertisement -
- Advertisement -

यूपी में विधानसभा चुनावों (UP Assembly Election) को लेकर राजनीतिक उठा पटक शुरू हो गई है. उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव इस बार काफी दिलचस्‍प होने वाले हैं. यूपी चुनाव में हाथ आजमा रही सांसद असद्उद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के नेतृत्व वाली ऑल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-ए-मुस्लमीन (AIMIM) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सामने बड़ी शर्त रखी है.

ओवैसी की AIMIM ने सपा के सामने गठबंधन करने के लिए डिप्‍टी सीएम की शर्त रखी है. AIMIM का कहना है कि सपा यूपी में गैर बीजेपी सरकार बनने पर समर्थन देने वाले मोर्चे में से किसी एक मुस्लिम चेहरे को डिप्‍टी सीएम बनाती है तो उनकी पार्टी और मोर्चे को समाजवादी पार्टी का गठबंधन हो सकता है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ऑल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-ए-मुस्लमीन (AIMIM) के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने कहा कि भागीदारी संकल्प मोर्चा समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने को तैयार है मगर इसमें शर्त यह रहेगी कि सरकार बनने पर उप मुख्यमंत्री मोर्चे के किसी वरिष्ठ मुस्लिम विधायक को बनाया जाए.

प्रदेश में आगामी विधान सभा चुनाव के मद्देनजर सांसद असद्उद्दीन ओवैसी अभी कुछ ही दिन पहले मुरादाबाद व आसपस के इलाकों में पार्टी के कार्यकर्ताओं से मिले और संगठन को मजबूत करते हुए कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने की रणनीति पर विचार किया था.

अगस्त की शुरूआत में यूपी दौरे पर आएंगे ओवैसी

AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने बताया कि अगस्त की शुरूआत ओवैसी यूपी दौरे पर आ रहे हैं. अपने इस दौरे में ओवैसी प्रयागराज, फतेहपुर, कौशाम्बी और आसपास के अन्य जिलों में कार्यकर्ताओं से मिलेंगे. इसके अलावा इसी दौरान वह बुद्धिजीवियों के अलग-अलग समूहों से भी मिलेंगे. इनमें खासतौर पर मुस्लिम, दलित, व पिछड़े वर्ग के वकील, अधिकारी, डाक्टर,इंजीनियर व अन्य प्रेाफेशनल भी शामिल रहेंगे.

‘यूपी में बीजेपी को रोकना है तो साथ लड़ना होगा’

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने कहा कि यूपी में संगठनात्मक ढांचा खड़ा हो गया है. सभी 75 जिलों में जिला अध्यक्ष बना दिये गये हैं, जिला इकाईयां भी गठित हो चुकी हैं. ओवैसी की पार्टी यूपी के इस बार के विधान सभा चुनाव में सौ सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करने का एलान पहले ही कर चुकी है. शौकत अली ने कहा कि हम तो चाहते हैं कि इस बार यूपी में अगर बीजेपी को रोकना है तो सपा-बसपा के साथ हमारा भागीदारी संकल्प मोर्चा मिलकर लड़ें. इससे मुसलमानों का बीस प्रतिशत वोट बिखरने से बच जाएगा.

कांग्रेस के साथ गठबंधन के सवाल पर AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने कांग्रेस के साथ उनकी पार्टी या मोर्चे का कोई गठबंधन नहीं होगा क्योंकि कांग्रेस डूबता हुआ जहाज है जो भी इस जहाज पर सवार होता है वह खुद भी डूब जाता है. वहीं उन्‍होंने आम आम आदमी पार्टी से गठबंधन पर कहा कि उसका यूपी में कोई जनाधार नहीं है.

‘ओवैसी की पार्टी से सीएम बनाने में कोई दिक्कत नहीं’

उधर, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के चीफ ओमप्रकाश राजभर (OM Prakash Rajbhar) ने TV9 भारतवर्ष से हुई एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा था कि अगर उनके गठबंधन की सरकार बनती है तो वो पांच साल में पांच मुख्यमंत्री और 20 डिप्टी सीएम बनाएंगे. असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM से गठबंधन पर उनका कहना था कि जब बीजेपी ने जम्मू कश्मीर में पीडीपी के साथ समझौता कर सरकार बनाई थी, तो हम क्यों ओवैसी की पार्टी के साथ समझौता करके सरकार नहीं बना सकते. उन्होंने साफ कहा कि वे AIMIM से मुख्यमंत्री बनाने के लिए भी तैयार हैं.

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×