पश्चिमी उत्तर प्रदेश चुनावी दंगल का सबसे बड़ा केंद्र बन गया है। भाजपा के दिग्गजों ने पश्चिम विजय के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। दूसरी तरफ मुकाबले में अखिलेश यादव और जयंत चौधरी भी ताल ठोंक रहे हैं। वहीं जाटलैंड के सबसे बड़े गढ़ मेरठ में जाट राजनीति के मसले पर न्यूज़ 18 चैनल ने एक बहस का आयोजन किया था। इसी दौरान कुछ ऐसा हुआ कि लोग हंगामा करने लगे…


शो की शुरुआत करते हुए अमिश देवगन ने कहा कि आज हम जाटलैंड में क्यों है यह आप तो आप समझ ही गए होंगे। बीते कुछ दिनों में यहां पर चुनावी पारा चढ़ गया है, हालांकि सर्दी बहुत ज्यादा है।

बहस जारी ही थी कि बीच में लाइट चली गयी और लोग हंगामा करने लगे, पैनल में मौजूद एक सपा प्रवक्ता विजय राठी ने कहा ये बीजेपी ऑफिस से बिजली लाये थे? वहीं पीछे से अंधेरे में आवाज आती रही, लोग चिल्लाते रहे अमिश जी लाइट चली गयी…अमिश देवगन ने भी कहा लाइट नहीं है। विजय राठी ने कहा कि क्षेत्र का रहने वाला हूं मैं…मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम में भी ऐसे ही लाइट चली गयी थी।

चुनाव में बिजली है मुद्दा: उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में बिजली एक अहम मुद्दा है, वर्तमान सरकार और भाजपा पार्टी बिजली के मुद्दे पर जमकर दावे और वादे कर रही है। अमित शाह और बाकी नेताओं के जाट नेताओं से मुलाकात के बाद मीडिया में जाट मुद्दा अहम हो गया है। न्यूज़ 18 के आर-पार शो में जाट और बिजली के मुद्दे पर बहस चल रही थी कि तबी बत्ती गुल हो गयी। जिसके बाद वहां खड़े प्रवक्ताओं के साथ-साथ बाकी खड़े लोग चिल्लाने लगे।


शो में बिजली के मुद्दे पर बहस चल रही थी, सपा प्रवक्ता ने कहा, ‘अगर भाजपा कहती है जाट साथ है तो फिर क्यों इन्हें इतना दर्द है…क्यों जयंत जी अब बढ़िया हो गए? जब हाथरस में लाठी चलाई तब बढ़िया नहीं थे वो…रही बात साथ की तो इसी क्षेत्र का रहने वाला हूं। पूरा जाट समाज गठबंधन के साथ है।’

जब किसी ने कहा पर्दाफाश हो गया: बहस के दौरान इसी समय, इतने में वहां बत्ती गुल हो गयी और भाजपा प्रवक्ता अजय गुप्ता ने कहा लाइट चली गई पीछे से किसी की आवाज आती है जिसमें वह कह रहे हैं कि बिजली का पर्दाफाश हो गया…इसपर अमिश देवगन ने कहा कि लाइट नहीं गई है बल्कि टेक्निकल दिक्कत है, क्योंकि पीछे बत्ती जल रही है

लाइट का जैसे नाम लिया बत्ती हुई गुल: वहीं जब हमने विजय राठी से इस मुद्दे पर बात की तो उन्होंने जनसत्ता डॉट कॉम से बातचीत करते हुए बताया, ‘कार्यक्रम के दौरान भाजपा वाले कह रहे थे योगी जी के समय लाइट सही हुई है, तो मैंने 10 से 12 थर्मल पॉवर प्रोजेक्ट के नाम गिनाएं जो हमने लगाए थे और उनसे पूछा एक नाम बताओ जो आपने लगाया हो और कैपेसिटी बढ़ाई हो उन्होंने कहा हमने तो नहीं लगाया लेकिन लाइट आती है। उन्होंने जैसे ही यह कहा तभी लाइट चली गयी।’

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment