यूपी: दरोगा ने पत्नी पर जमाया क़ब्ज़ा इंजीनियर पति ने डीजीपी को पत्र लिखकर कहा- सर, मेरी पत्नी को छुड़ाओ

मनोरंजनयूपी: दरोगा ने पत्नी पर जमाया क़ब्ज़ा इंजीनियर पति ने डीजीपी को पत्र लिखकर कहा- सर, मेरी पत्नी को छुड़ाओ

दरोगा उसकी गैरमौजूदगी में पत्नी से मिलने घर आने लगा। एक दिन अचानक आ धमके इंजीनियर ने दरोगा को अपनी पत्नी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया। 

इस पर दरोगा उसे झूठे केस में फंसाने और हत्या करवाने की धमकी देने लगा। पीड़ित इंजीनियर जेवर एयरपोर्ट में काम कर रही एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में जॉब करता है। वह पत्नी के साथ लखनऊ में इंदिरानगर के इस्माइलगंज में किराये के मकान में रहता था। दो साल पहले उसने एक प्रॉपर्टी डीलर को प्लॉट खरीदने के लिए रुपये दिए थे। उसने प्लॉट नही दिया और रुपये भी हड़प लिए। 

इंजीनियर चिनहट कोतवाली में शिकायत लेकर पहुंचा तो इसकी जांच कमाता चौकी इंचार्ज रहे दरोगा मनोज कुमार सिंह को मिली। यही से दरोगा ने उसकी पत्नी पर डोरे डालना शुरू किया और मामला यहां तक पहुंच गया। 

50 हजार रुपए रिश्वत लेने के बाद पत्नी से बनाये संबंध
पीड़ित इंजीनियर के मुताबिक उनकी पोस्टिंग शहर से बाहर थी इसलिए केस की पैरवी के लिए उसकी पत्नी ही दरोगा के बुलाने पर कमाता चौकी जाती थी। दरोगा ने प्रॉपर्टी डीलर से उसके पैसे वापस दिलाने के एवज में 50 हजार रुपए रिश्वत मांगा। पीड़ित ने पत्नी के कहने पर दरोगा को 50 हजार रुपए दे दिए लेकिन उसके रुपये वापस नही मिले। इसके बाद दरोगा उसकी पत्नी को हर रोज चौकी बुलाने लगा और दोनों के बीच प्रेम प्रसंग शुरू हो गया। 

बनारस ट्रांसफर हुआ तो छुट्टी लेकर मिलने आया लखनऊ
दरोगा मनोज सिंह का बनारस ट्रांसफर हो गया लेकिन वो इंजीनियर की पत्नी से मिलने के लिए सप्ताह भर से छुट्टी लेकर लखनऊ में ही पड़ा हुआ है। पीड़ित इंजीनियर के मुताबिक उसे मकान मालकिन से पता चला कि कोई पुलिसवाला अक्सर उसके घर आता जाता है। इस पर 26 जनवरी को वो अचानक घर पहुंच गया। उसने धक्का देकर दरवाजा खोला तो बेडरूम में दरोगा उसकी पत्नी के साथ आपत्तिजनक हालत में था। पीड़ित का कहना है कि पकड़े जाने पर दरोगा उसे धमकी देने लगा। 

पत्नी पर दबाव बनाकर इंजीनियर को उसके ही घर से निकलवा दिया पीड़ित ने बताया कि वह दरोगा के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीजीपी कार्यालय पहुंचा तो प्रार्थना पत्र लेकर उसे टरका दिया गया। इसके बाद पुलिस कमिश्नर के पास गया लेकिन वहां भी केवल आश्वासन ही मिला। उधर इसकी जानकारी होने पर दरोगा ने पत्नी पर दबाव बनाकर उसका सारा सामान घर से बाहर फेंकवा दिया। हालात यह है कि पीड़ित इंजीनियर होटल में कमरा लेकर रात गुजार रहा है और दरोगा उसकी पत्नी के साथ उसके ही घर में रह रहा है।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles