8.8 C
London
Wednesday, April 17, 2024

यूपी: बीजेपी प्रत्याक्षी का दावा भाजपा सांसद ने किडनैप कर ज्वाइन करवाई पार्टी

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

शनिवार से उत्तरप्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन की प्रकिया शुरू हो गई। नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही बागपत के जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में बड़ा ड्रामा देखने को मिला। बागपत से जिला पंचायत अध्यक्ष पद की प्रत्याशी ममता किशोर ने स्थानीय भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह पर अपहरण कर जबरदस्ती पार्टी ज्वाइन कराने का आरोप लगाया है। 

दरअसल शनिवार को नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही रालोद से जिला पंचायत अध्यक्ष की प्रत्याशी ममता किशोर अपने पति जय किशोर के साथ भाजपा में शामिल हो गईं थी। ममता ने स्थानीय सांसद सत्यपाल सिंह की मौजूदगी में भाजपा ज्वाइन की थी। ममता के भाजपा में जाने के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर बीजेपी की जीत सुनिश्चित दिखाई दे रही थी। लेकिन थोड़े ही देर के बाद ममता किशोर दोबारा से अपने पति जय किशोर के साथ रालोद में वापस आ गईं।

दरअसल शनिवार को नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही रालोद से जिला पंचायत अध्यक्ष की प्रत्याशी ममता किशोर अपने पति जय किशोर के साथ भाजपा में शामिल हो गईं थी। ममता ने स्थानीय सांसद सत्यपाल सिंह की मौजूदगी में भाजपा ज्वाइन की थी। ममता के भाजपा में जाने के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर बीजेपी की जीत सुनिश्चित दिखाई दे रही थी। लेकिन थोड़े ही देर के बाद ममता किशोर दोबारा से अपने पति जय किशोर के साथ रालोद में वापस आ गईं।

रालोद में वापसी के बाद ममता किशोर ने भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह पर अपहरण कर जबरदस्ती पार्टी ज्वाइन कराने का आरोप लगाया। ममता के पति जय किशोर ने कहा कि उनके पास फोन कर कहा गया कि आप भाजपा में शामिल हो जाओ नहीं तो कई सारे मुक़दमे लगाकर जेल भेज दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि वे रालोद के सिपाही हैं और आजीवन इसी पार्टी में रहेंगे।

दरअसल बीजेपी ने पूरे उत्तरप्रदेश में 65 से ज्यादा जिला पंचायत अध्यक्ष पद की सीटें जीतने का दावा किया है। लेकिन बागपत में हुए जिला पंचायत चुनाव में भाजपा के 20 में सिर्फ 4 प्रत्याशी जीते थे। बागपत में जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित है। लेकिन रालोद की ममता किशोर और सपा की बबली देवी ही इस वर्ग से जीत दर्ज कर पाई थी। हालांकि भाजपा ने कुछ दिन पहले ही सपा की बबली देवी को अपनी पार्टी में शामिल करा लिया था। 

शनिवार सुबह ममता किशोर के भाजपा में शामिल होने के बाद बीजेपी की जीत सुनिश्चित दिखाई दे रही थी। लेकिन दोबारा से ममता किशोर के रालोद में वापस आने के बाद भाजपा की राहें मुश्किल हो गई है। रालोद में वापसी के बाद ममता किशोर ने अपना नामांकन दाखिल किया। बागपत जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में भाजपा की बबली देवी और रालोद की ममता किशोर के बीच टक्कर देखने को मिलेगी।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here