मुख्तार अंसारी एंबुलेंस प्रकरण (Mukhtar Ansari Ambulance Case) के मामले में बीजेपी नेता डॉ अलका राय (Dr Alka Rai) और उनके भाई शेषनाथ राय को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

बाराबंकी पुलिस मंगलवार सुबह शेषनाथ राय और डॉ अलका राय को अपने साथ ले गई. बता दें कि पंजाब के रोपड़ जेल में बंद रहने के दौरान मुख्तार अंसारी को एंबुलेंस सुविधा मुहैया कराने का ये पूरा मामला है. मामले में जांच के बाद पुलिस ने मुख़्तार अंसारी समेत सभी 12 आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की है.

इस मामले में आज बाराबंकी पुलिस डॉ अलका राय और उनके भाई एसएन राय को हिरासत में लेकर बाराबंकी के लिए रवाना हुई. डॉक्टर अलका राय और उनके भाई पर मुख़्तार अंसारी को एंबुलेंस से सहायता मुहैया कराया जाने का आरोप लगाया गया था. इस मामले में डॉ अलका राय करीब 8 महीनों से जेल में बंद थी और जेल से छूटने के बाद अब दोनों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया. अब दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

मामले को लेकर मुख्तार अंसारी के खिलाफ एक दिन पहले ही गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है. मऊ स्थित श्याम संजीवनी अस्पताल एंड रिसर्च सेंटर की संचालिका डॉ. अलका राय और उनके भाई के खिलाफ दो अप्रैल 2021 को पहला मुकदमा जालसाजी का लिखा गया था. करीब तीन माह बाद सभी आरोपियों के खिलाफ चार जुलाई 2021 को न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया गया. आठ महीने जेल में रहने के बाद दोनों भाई-बहन ढाई महीने पहले जेल से बाहर आ गए थे। अब इन पर गैंगेस्टर का केस दर्ज है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment