उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) जिले में धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है, जहां 15 मुसलमानों का शुद्धिकरण कराकर कथित घर वापसी कराई गई है. महंत यशवीर महाराज ने पूरे रीति-रिवाज से 15 लोगों को हिंदू धर्म में दीक्षित किया है. इन सभी लोगों का दावा है कि 18 साल पहले उनको जबरन दबाव में लेकर धर्म परिवर्तन कराया गया था. ये सभी लोग अब दोबारा अपने धर्म में लौट आए हैं. आरोप है कि उन्हें पहले डराया गया था. धर्म परिवर्तन करने वाले सभी लोगों का गायत्री मंत्र के उच्चारण के साथ-साथ हवन कराकर शुद्धिकरण किया गया.

दरअसल, ये मामला मुजफ्फरनगर जिले में बघरा स्थित योग साधना यशवीर आश्रम का है. आश्रम के संचालक यशवीर महाराज ने बताया कि यह परिवार बिनौली क्षेत्र में रह रहा है. जहां पर परिवार के 15 सदस्य सोमवार को आश्रम पहुंचे और दोबारा हिंदू धर्म अपनाने की बात कही. इसके बाद आश्रम में हवन पूजन किया गया. इन लोगों ने दोबारा हिंदू धर्म में आस्था जताई है.

परिवार वालों ने दावा किया गया है कि 18 साल पहले हम लोगों का जबरन धर्मांतरण हुआ था. ये सभी डर गए थे. अब सोमवार को यशवीर आश्रम में 15 लोगों की घर वापसी धार्मिक रीति-रिवाज से हुई और सभी को हिंदू धर्म में दीक्षित किया गया. धर्म परिवर्तन करने वाले सभी लोगों का गायत्री मंत्र के उच्चारण के साथ-साथ हवन कराकर शुद्धिकरण किया गया.

परिवार बिनौली इलाके में मजदूरी से  कर रहा गुजरबसर

बता दें कि इस हवन में शामिल हुए परिवार में 7 महिलाएं, 3 लड़कियां और 5 पुरुष थे. आचार्य मृगेंद्र ने बताया कि इनकी पहचान गोपनीय रखी गई है, जिससे इन्हें कोई परेशान न करें. यह परिवार वर्तमान में बिनौली क्षेत्र में रहते हुए मजदूरी कर अपना गुजर बसर कर रहा है. परिवार के सदस्यों को जनेऊ धारण कराया गया. इस दौरान मोहनलाल, सागर शर्मा, सुमित चौधरी, परमजीत, अमरपाल, मुकेश कुमार और रविंद्र मौजूद रहे.

धर्म परिवर्तन कर अब बदले गए नाम

गौरतलब है कि हिंदू धर्म में आस्था जताने वालों में रहीसू का नाम यशपाल, जरीना का मिथलेश, शमी का बादल, सनी का दीपक, गुलबहार का संगीता, आसमां का कविता, आशिया का वंदना, आनिया का प्रतिमा, नीशा का नीशा देवी, सुलेखा का सरोज, असगर का बिल्लू कुमार, शकील का अमित, अशरफ का विनोद और दानिश का नाम दिनेश रखा गया है. वहीं, मिथलेश का कहना है कि अपनी मर्जी से हिंदू धर्म में आए हैं. किसी ने दबाव नहीं बनाया. अपने हिंदू धर्म में वापसी की है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment