8.8 C
London
Wednesday, April 17, 2024

ब्रिटेन: महिला सांसद ने लगाया आरोप “मुस्लिम” होने की वजह से छीना मंत्री पद

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

पाकिस्तानी मूल की ब्रिटिश सांसद नुसरत गनी ने रविवार को गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मुझे मुस्लिम होने की वजह से फरवरी 2020 में कंजर्वेटिव पार्टी की सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया गया था। 49 वर्षीय नुसरत को साल 2018 में तत्कालीन प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने देश के परिवहन विभाग में कनिष्ठ मंत्री के पद पर नियुक्त किया गया था। लेकिन, फरवरी 2020 में बोरिस जॉनसन के प्रधानमंत्री बनने के बाद हुए फेरबदल में उन्हें इस पद से हटा दिया गया था। उन्होंने कहा कि यह कदम मेरे मुसलमान होने के चलते उठाया गया था।

 
ब्रिटिश समाचार पत्र दि संडे की एक रिपोर्ट के अनुसार गनी ने कहा, ‘मंत्रिमंडल में फेरबदल के बाद सचेतकों के साथ बैठक में मैंने पूछा था कि मुझे मंत्रिमंडल से हटाने के पीछे क्या सोच है। डाउनिंग स्ट्रीट में इस बैठक के दौरान मुझे बताया गया था कि मुसलमान होने को एक मुद्दे की तरह उठाया गया था। मंत्रिमंडल के बाकी सहयोगी मुस्लिम महिला मंत्री से असहज महसूस कर रहे थे। इस पर भी चिंता जताई गई कि मैं पार्टी के प्रति निष्ठावान नहीं हूं क्योंकि मैंने इस्लामोफोबिया संबंधी आरोपों के विरुद्ध पार्टी के बचाव में पर्याप्त कदम नहीं उठाए।’ 

पार्टी के मुख्य सचेतक ने खारिज किए सासंद के आरोप 
वहीं, कंजर्वेटिव पार्टी के मुख्य सचेतक मार्क स्पेंसर ने नुसरत गनी के इस बयान को लेकर ट्विटर पर कहा कि गनी के आरोप बिल्कुल झूठे हैं। स्पेंसर ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए कि इस मामले में अन्य सचेतकों को न खींचा जाए, मैं अपनी पहचान उस व्यक्ति के रूप में कर रहा हूं, जिसके बारे में सांसद नुसरत गनी ने दावा किया है। ये आरोप पूरी तरह गलत हैं और मैं इन्हें अपमानजनक मानता हूं। यह निराशाजनक है कि जब पहले इस मुद्दे को उठाया गया था तो गनी ने इस मामले को औपचारिक जांच के लिए भेजने से इनकार कर दिया था।

अपनी ही पार्टी में कमजोर हुआ मेरा भरोसा: नुसरत गनी 
नुसरत गनी ने दावा किया है कि इस अनुभव ने पार्टी में मेरे खुद के ही विश्वास को कमजोर किया है। मैं कई बार गंभीरता से विचार करती हूं कि क्या मुझे सांसद बने रहना चाहिए। लेकिन मैं उन्हें जीतने नहीं दूंगी और मुझे राजनीति से बाहर करने की कोशिशें सफल नहीं होने दूंगी।

उन्होंने कहा कि मैं इसकी वजह से अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर भी चिंतित रहू हूं। लेकिन मुझे हमेशा पता था कि एक समय ऐसा आएगा जब मुझे अपना पक्ष सबके सामने पखना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि मैं सभी स्थितियों का सामना करने के लिए तैयार हूं।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here