अमेरिका के पास नहीं है अल जवाहिरी की मौत का सबूत, व्हाइट हाउस ने किया ऐसा दावा

विदेशअमेरिका के पास नहीं है अल जवाहिरी की मौत का सबूत, व्हाइट हाउस ने किया ऐसा दावा

अल कायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी की मौत के बाद व्हाइट हाउस ने कहा कि उनके पास जवाहिरी की मौत का कोई डीएनए एविडेंस नहीं है। हालांकि, व्हाइट हाउस ने दावा किया है कि जवाहिरी की पहचान कई अन्य माध्यम से की गई थी। 9/11 अटैक के मुख्य रणनीतिकारों में से एक रहे अयमान अल-जवाहिरी को काबुल के एक सेफहाउस में रहने के दौरान ड्रोन स्ट्राइक से ढेर कर दिया गया था, जहां वह अपने परिवार के साथ छिपा हुआ था।

तालिबानी नेता के करीबी का था सेफहाउस

व्हाइट हाउस के अनुसार, 31 जुलाई की सुबह जब अयमान अल-जवाहिरी सेफहाउस की बालकनी पर खड़ा था, तभी उस पर दो हेलफायर मिसाइल दागी गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि जवाहिरी जिस सेफहाउस में ठहरा हुआ था, वह तालिबान के वरिष्ठ नेता सिराजुद्दीन हक्कानी के एक प्रमुख सलाहकार का आवास था।

व्हाइट हाउस बोला- नहीं है जवाहिरी का DNA एविडेंस

व्हाइट हाउस के राष्ट्रीय सुरक्षा प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि, उनके पास अल-जवाहिरी की मौत की पुष्टि करने के लिए कोई डीएनए एविडेंस नहीं है। जॉन किर्बी ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए आगे कहा कि हालांकि उन्हें इस एविडेंस की जरूरत भी नहीं है, क्योंकि हमने कई सारे तरीकों से यह पुष्टि कर ली है कि जवाहिरी मारा जा चुका है। शायद अमेरिकी इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी आतंकी लीडर को ख़त्म करने का दावा करने वाले अमेरिका के पास उसका डीएनए एविडेंस मौजूद नहीं है।

बाइडेन ने किया था दावा

जॉन किर्बी ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा कि इस मिसाइल हमले से उन्होंने संकेत दे दिया है कि अफगानिस्तान आतंकवादियों की शरणस्थली न है और न ही रहेगा। ज्ञात हो कि व्हाइट हाउस की ब्लू रूम बालकनी से अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अयमान अल-जवाहिरी की मौत की घोषणा करते हुए कहा था- जस्टिस डिलीवर्ड यानी न्याय दे दिया गया है।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles