उत्तर प्रदेश विधानसभा की हाई प्रोफाईल सीट सिराथू में भाजपा को करारा झटका लगा है। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को हार का सामान करना पड़ा है। उन्हें सपा की पल्लवी पटेल ने 6477 वोटों से हराया।

सिराथू में काउंटिंग के दौरान काफी बवाल हुआ। पुलिसकर्मियों पर पथराव भी हुआ। हालात काबू में पाने के लिए आंसू गैस चलाना पड़ा।

साल 1993 से 2007 तक सिराथू सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित थी। इस दौरान यहां बसपा के उम्मीदवारों ने यहां बाजी मारी। साल 2012 के विधानसभा चुनाव में भाजपा की टिकट पर केशव प्रसाद मौर्य को जीत मिली।

तब पहली बार यह सीट सामान्य हुई थी। साल 2014 में उप चुनाव के दौरान सिराथू सीट से सपा को जीत मिली थी। केशव प्रसाद मौर्य ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद फूलपुर से सांसद चुने जाने के बाद विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment