पाकिस्तान सरकार के साथ ‘गुप्त समझौते’ के बाद जेल से रिहा हुए TLP प्रमुख साद रिजवी

मनोरंजनपाकिस्तान सरकार के साथ 'गुप्त समझौते' के बाद जेल से रिहा हुए TLP प्रमुख साद रिजवी

लाहौर: तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (TLP)प्रमुख साद रिजवी (Saad Rizvi) को गुरुवार को कोट लखपत जेल से रिहा कर दिया गया. ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट के अनुसार, साझा किए गए वीडियो और तस्वीरों के अनुसार, टीएलपी प्रमुख अपनी रिहाई के तुरंत बाद लाहौर में रहमतुल-इल-आलीमीन मस्जिद पहुंचे. रिपोर्ट में कहा गया है कि रिजवी के स्वागत के लिए बड़ी संख्या में समर्थक पार्टी मुख्यालय के बाहर जमा हो गए थे.

टीएलपी प्रमुख 11 अप्रैल से हिरासत में थे. उनकी रिहाई को पाकिस्तान सरकार और टीएलपी के बीच हाल ही में पार्टी के धरने के बाद हुए समझौते का हिस्सा बताया जा रहा है. 31 अक्टूबर को, पाकिस्तान सरकार ने घोषणा की थी कि दोनों पक्षों के बीच नवीनतम दौर की बातचीत के बाद तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के साथ एक समझौता किया गया है.

लगभग दो सप्ताह के संघर्ष के बाद समझौता हुआ, जिसमें कम से कम सात पुलिसकर्मी मारे गए और दोनों पक्षों के काफी लोग घायल हो गए थे. एक हफ्ते बाद, 7 नवंबर को पाकिस्तान की संघीय कैबिनेट ने टीएलपी को देश के आतंकवाद विरोधी कानून के तहत एक ‘निषिद्ध’ संगठन घोषित करने के अपने पहले के फैसले को रद्द कर दिया, क्योंकि संगठन प्रतिबद्ध है कि वह संविधान और देश के कानूनों का पालन करेगा.

इसके चार दिन बाद, पंजाब सरकार द्वारा रिजवी का नाम आतंकवाद विरोधी अधिनियम, 1997 की चौथी अनुसूची से हटा दिया गया था.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles