पोलैंड (Poland) दौरे से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) के एक बयान ने वर्ल्ड वॉर की चिंगारी और भी भड़का दी है. अमेरिका के 46वें प्रेसिडेंट ने कहा है कि बहुत जल्द एक न्यू वर्ल्ड ऑर्डर बनने वाला है, जिसका नेतृत्व अमेरिका के हाथों में होगा. इसके लिए अमेरिका को दुनिया के सभी फ्री देशों को एकजुट करना होगा.

माना जा रहा है कि पोलैंड दौरे से पहले बाइडेन ने ये बयान देकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर निशाना साधा है. अमेरिका अब रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर सीधे-सीधे एक्शन में आने की चेतावनी दे रहा है. यूक्रेन की ओर से अमेरिका इस युद्ध में शामिल हो सकता है. जिसके बाद वर्ल्ड वॉर की शुरुआत हो सकती है.

रूसी मीडिया का दावा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की वर्ल्ड लीडर बनने की महात्वाकांक्षा पूरी दुनिया पर भारी पड़ सकती है. अमेरिका के तेवर दिखाने से कुछ साथी देश पीछे भी हटने लगे हैं और यूरोपियन यूनियन में दरार पड़ने लगी है. हंगरी के टॉप डिप्लोमैट पीटर शिजार्तो ने संकेत दिया है कि वो अमेरिका की ओर से रूस पर लगाए गए नए प्रतिबंधों को मानने से इनकार कर सकता है, क्योंकि इसके बैकफायर करने की आशंका है. हंगरी ने यूक्रेन को नो फ्लाई जोन घोषित करने के प्लान पर भी आपत्ति जताई है और कहा है कि इससे बहुत बड़ी जंग छिड़ सकती है.

रूस ने मारियुपोल पर तेज किया हमला

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के पोलैंड दौरे की खबरें आने के बाद रूस ने यूक्रेन पर हमला तेज कर दिया है. यूक्रेन ने दावा किया है कि मारियुपोल में बच्चों को सुरक्षित ले जा रही बस पर रूस ने हमला किया है, जिसमें 4 बच्चे घायल हो गए. डोनबास पर रूस का अटैक तीखा हो चुका है. रूसी सेना लगातार यूक्रेन फोर्स को निशाना बना रही है. रॉकेट लॉन्चर से हमले कर रही है. इस बीच यूक्रेन पर कब्जा करने के लिए रूस की ओर से घातक इस्कंदर मिसाइलें दागने के भी वीडियो सामने आ रहे हैं. हालांकि ये मिसाइल कब और कहां दागी गई, इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है.

यूक्रेन पर रूस के केमिकल अटैक करने का भी खतरा मंडराने लगा है. अमेरिका ने दावा किया है कि रूस की सेना यूक्रेन पर खतरनाक केमिकल हमले का प्लान बना रही है, जिससे बड़े पैमाने पर तबाही हो सकती है. वहीं, यूक्रेन की मिलिट्री ने देश की जनता को आगाह किया है कि रूस की सेना अब मिलिट्री टारगेट्स पर नहीं बल्कि हर तरफ हमले कर रही है, इसलिए लोगों को ज्यादा सावधान रहना होगा. यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि रूस के हमले में 96 साल का एक ऐसा व्यक्ति भी मारा गया. जो हिटलर के नाजी कंसन्ट्रेशन कैंप से भी जिंदा बच गया था.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment