कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि कुथ लोगों ने जिनमें औरतें भी शामिल है, उन्हे राम मंदिर के लिए चंदा न देने पर धमकाया।

जेडीएस के नेता औक कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने एक बार फिर राम मंदिर से जुड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा है कि राम मंदिर के लिए चंदा न देने पर उन्हे धमकाया गया। कुमारस्वामी ने राम मंदिर के लिए चंदा अभियान पर भी सवाल उठाया और कहा कि इसमें पारदर्शिता नहीं है। 
कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि कुथ लोगों ने जिनमें औरतें भी शामिल है, उन्हे राम मंदिर के लिए चंदा न देने पर धमकाया। कुमारस्वामी ने कहा कि मैं भी एक पीड़ित हूँ। एक औरत समेत तीन लोगों ने मुझे मेरे घर आ कर धमकाया और कहा कि मैं राम मंदिर के लिए चंदा क्यों नहीं दे रहा हूँ, ये देश का सबसे बड़ा मुद्दा है। वह महिला कौन है? क्या उन्हे मेरे घर आ कर मुझसे सवाल करने का अधिकार है? 
पूर्व मुख्यमंत्री ने राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा अभियान पर भी सवाल खड़े किए हैं। उन्होने कहा, ‘मुझे राम मंदिर के लिए चंदा देने में कोई परेशानी नहीं है। अगर ज़रूरत पड़ी तो मैं भी चंदा दूँगा लेकिन जानकारी कौन दे रहा है। चंदा इकट्ठा करने के लिए पारदर्शिता कहाँ है। कई लोग दूसरे लोगों को धमका कर पैसा इकट्ठा कर रहे हैं।’

कुमार स्वामी ने कुछ दिनों पहले राम मंदिर पर कई ट्विट किए थे। इसमें उन्होने दावा किया था कि आरएसएस कार्यकर्ता राज्य में राम मंदिर के लिए चंदा देने वाले और न देने वाले लोगों के घरों को अलग अलग तरह से चिन्हित कर रहे हैं।   
 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *