अपनी बेबाक टिप्पणी से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले संभल सांसद शफीकुर्रहमान बर्क एक बार फिर भाजपा सरकार पर हमलावर हुए हैं। बर्क इस दौरान जामा मस्जिद में जल चढ़ाने वाली बात पर भी भड़कते नजर आए।

दिल्ली की जहांगीरपुरी मस्जिद में हुई बुलडोजर कार्रवाई से नाराज सांसद बर्क ने कहा, जहांगीरपुरी में जो जुल्म हुआ है वह बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। रमजान महीने में मस्जिद पर जो बुलडोजर चलाया गया है इससे बुरी बात नहीं हो सकती। इसका में दिल से निंदा करता हूं। उन्होंने दिल्ली पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशाना उठाते हुए कहा, मस्जिद के बराबर में मंदिर भी था, उसके सामने भी वही स्थिति थी जो मस्जिद के पास थी।

फिर केवल मस्जिद पर ही बुलडोजर क्यों चलाय गया, मंदिर पर क्यों नहीं। उन्होंने दिल्ली पुलिस की कार्रवाई को एक तरफा बताया। भाजपा सरकार पर हमलावर हुए सांसद बर्क ने मुसलमानों को दबाए जाने का भी आरोप लगाया। बर्क बोले-जहांगीरपुरी की मस्जिद को नुकसान पहुंचाया गया है हिम्मत थी तो मंदिर भी तोड़ते।

जहांगीरपुरी में बुलडोजर कार्रवाई को लेकर बर्क ने कहा, मस्जिद में तोड़फोड़ मुसलमानों को दबाने की कोशिश है। ऐसे में हिन्दुस्तान के अंदर मुसलमान जिंदा कैसे रहेगा। बर्क बोले-इस समय रमजान का पाक महीना चल रहा है, इस महीने में मुसलमान हर बुराई और बुरे कामों से बचने की कोशिश करता है। ऐसे में मस्जिद पर बुलडोजर चलाया जाना ठीक नहीं। दिल्ली में हुई कार्रवाई का भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए बर्क ने इस्तीफा भी मांगा।

जामा मस्जिद में जल चढ़ाने वाली बात पर बर्क ने कहा, ऐसा हुआ तो हजारों आदमियों को खून चढ़ेाग। इसको मुसलमान कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। हम अमन चाहते हैं, ऐसी बात क्यों करते हो। मैं गुजारिश करता हूं कि प्रशासन को अलर्ट रहना चाहिए। ईद पर बिजली पानी की व्यवस्था होनी चाहिए।

प्रशासन से मांग है कि इस बात का ध्यान रखा जाए कि नफरत ना पनप पाए। जामा मस्जिद पर जल चढ़ाने की बात कही, लेकिन हमने मुसलमानों को समझा-बुझाकर हालात को काबू किया है। मै यही गुजारिश करता हूं कि ईद और अलविदा पर माकूल इंतजाम होने चाहिए।

शिवपाल-अखिलेश की नाराजगी पर बर्क पार्टी में कोई फूट नहीं

अखिलेश और शिवपाल की नाराजगी वाले सवाल पर बर्क ने कहा पार्टी में कोई फूट नहीं है। हम सबक एक हैं। हम समाजवादी पार्टी के साथ हैं। असम में दो भाइयों के एनकाउंटर पर बर्क बोले-मुसलमानों पर फर्जी मुकदमे लिखाए जा रहे हैं। उनका फर्जी एनकाउंटर किया रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि जब एक व्यक्ति पुलिस की कस्टडी में था तो एनकाउंटर कैसे कर दिया गया। बिजली चेकिंग के नाम पर भी मुसलमानों को परेशान किया जा रहा है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment