20.6 C
London
Saturday, May 25, 2024

पवित्र जगह “मस्जिद” की सीढ़ियों पर नाचने वाला युवक चढ़ा पुलिस के हत्थे

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

बांग्लादेश की पुलिस ने मस्जिद की सीढ़ियों पर नाचने और उसका वीडियो बनाकर प्रसारित करने के आरोप में 20 साल के एक युवक को गिरफ्तार किया है.सोमवार को बांग्लादेश की पुलिस ने बताया कि 20 वर्षीय एक युवक को राजधानी ढाका के पूर्व में स्थित क्युमिला कस्बे में एक मस्जिद की सीढ़ियों पर नाचने और उसका वीडियो बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. इस युवक पर आरोप है कि उसने 20 वर्षीय एक युवती के साथ मस्जिद की सीढ़ियों पर डांस करते हुए खुद को फिल्माया और फिर उस वीडियो को अलग-अलग जगह शेयर भी किया.

अधिकारियों का कहना है कि सोशल मीडिया पर मशहूर यासीन को देवीद्वार स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया गया.

धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप

पुलिस ने यासीन पर मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का इल्जाम लगाया है और बांग्लादेश के 2018 डिजिटल सिक्योरिटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है. यासीन को दोषी पाए जाने पर पांच साल तक की जेल हो सकती है.

स्थानीय पुलिस प्रमुख ने समाचार एजेंसी एएफपी को कहा कि यासीन के नृत्य ने मस्जिद को दूषित कर दिया. वीडियो में यासीन के साथ डांस करने वालीं कलाकार फिलहाल लापता है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है. जिस वीडियो को लेकर यह हंगामा हुआ है वह क्युमिला में बनी एक नई मस्जिद के बाहर फिल्माई गई थी. यह मस्जिद उन 50 नई मस्जिदों में शामिल है जिन्हें सरकार ने हाल ही में बनवाया है. वीडियो करीब एक महीना पहले फिल्माई गई थी और इसे लाईकी नामक वीडियो-शेयरिंग प्लैटफॉर्म पर अपलोड किया गया था.

अधिकारियों का कहना है कि वीडियो को लगभग साढ़े नौ लाख बार देखा चुका है. बांग्लादेश यूं आधिकारिक तौर पर एक धर्मनिरपेक्ष देश है लेकिन हाल ही में ऐसी कई घटनाएं हुई हैं जबकि अधिकारियों ने इस्लाम की सुरक्षा में कठोर कार्रवाई की है.

पिछले साल ही एक ब्लॉगर असद नूर को बेहद तीखी आलोचनाओं का सामन करना पड़ा था क्योंकि उसने इस्लामिक की आलोचना की थी. नास्तिक ब्लॉगर असद नूर भारत में रहते हैं. पुलिस ने उनका पासपोर्ट जब्त कर लिया था जिसके बाद 14 नवंबर 2019 को वह गुपचुप तरीके से सीमा पारकर भारत चले गए थे. पिछले साल डॉयचेवेले को दिए एक इंटरव्यू में नूर ने बताया था, “अपने यूट्यूब और फेसबुक वीडियो में मैं इस्लाम और पैगंबर मोहम्मद की कुरान का हवाला देकर आलोचना करता रहा हूं. इसके साथ ही मैं राजनीतिक इस्लाम का भी आलोचक हूं. इसलिए इस्लामिक लोग मुझसे नाराज हैं.”

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here