नई दिल्‍ली: महाराष्ट्र में राज्य सरकार और गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी में विवाद और बढ़ गया है। जानकारी के मुताबिक, गवर्नर कोश्यारी को सरकारी विमान नहीं दिया गया। गवर्नर चमोली हादसे के बाद उत्तराखंड जा रहे थे, जिसमें सरकारी विमान ना मिलने पर राज्यपाल निजी फ्लाइट से देहरादून रवाना हुए।

मिली जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी आज राज्य सरकार के विमान से देहरादून जाने वाले थे, लेकिन जब राज्यपाल मुंबई एयरपोर्ट पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि उन्हें इस विमान में उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी गई है। वहीं मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राज्यपाल करीब 20 मिनट तक प्लेन में बैठे इंतेज़ार करते रहे इसके बाद उन्होंने देहरादून के लिए निजी फ्लाइट को बुक कराया।

बचाव में जुटे नौसेना के मरीन कमांडो
उत्तराखंड त्रासदी में लापता लोगों की तलाश में नौसेना के मरीन कमांडो जुटे हुए हैं। अबतक 32 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं और 200 से ज्यादा लोग अभी भी लापता हैं। इस बीच NTPC की तपोवन टनल में 39 मजदूरों को बचाने में जुटी सेना ने अपने ऑपरेशन में एक बड़ा बदलाव किया है। अब सेना टनल के अंदर 72 मीटर पर एक ड्रिल कर रही है। यह ड्रिल करीब 16 मीटर नीचे की तरफ किया जा रहा है। ड्रिल सीधा इस टनल के नीचे से गुजर रही एक दूसरी टनल में जाकर निकलेगा, जहां पर इन सभी मजदूरों और प्रोजेक्ट मैनेजर के फंसे होने की पूरी आशंका है।

मिली जानकारी के अनुसार, सुब‍क तीन बजे इस ऑपरेशन को शुरू किया गया था। पहले 75 एमएम का होल बनाना शुरू किया, लेकिन सेना को उसमें दिक्कत आई। अब करीब 50 मिलीमीटर का होल बनाया जा रहा है। एक मीटर ड्रिल करने के बाद ही कुछ दिक्कतें आई, जिसके बाद अब दोबारा से ड्रिलिंग का काम शुरू कर दिया है। ड्रिलिंग पूरी होते ही एक कैमरा इस ड्रिल होल के जरिए नीचे दूसरी टनल तक पहुंचाया जाएगा और फिर देखा जाएगा कि उस टनल के क्या हालात है। क्या फंसे हुए लोग सुरक्षित हैं या नहीं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *