खालसा एड के संस्थापक रवि सिंह का ट्विटर अकाउंट भारत में बैन, जानिए क्या बोले

टेक्नोलॉजीखालसा एड के संस्थापक रवि सिंह का ट्विटर अकाउंट भारत में बैन, जानिए क्या बोले

खालसा एड के फाउंडर रविंदर सिंह उर्फ रवि सिंह के ट्विटर अकाउंट को भारत में बैन कर दिया गया है।

इस बारे में उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर जानकारी दी है। उन्होंने ट्विटर पर बैन हो चुके अकाउंट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा है कि मेरा ट्विटर अकाउंट भारत में बैन हो गया है। भाजपा के नेतृत्व में यह लोकतंत्र का असल चेहरा है। उन्होंने यह भी लिखा कि अब हमारी आवाज और बुलंद होगी।

दरअसल, कई मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि खालसा एड की स्थापना साल 1999 में हुई थी। यह ब्रिटेन स्थित एक गैर-लाभकारी संगठन है जो प्राकृतिक और मानव निर्मित आपदाओं के समय दुनियाभर में मदद मुहैया कराने का काम करता है। खालसा एड उन कुछ बड़े संगठनों में शामिल था जिसने भारत में संयुक्त किसान मोर्चा की अगुवाई में एक साल चले किसान आंदोलन को मदद मुहैया कराई थी।

इतना ही नहीं यह वही संगठन है जिसने भारत से बाहर किसान आंदोलन पर लोगों का ध्यान आकर्षण करने में अहम भूमिका निभाई थी। भारत में किसान आंदोलन के दौरान दिल्ली में खालसा एड ने किसानों के लिए निशुल्क लंगर भी लगाया और मदद की। यह भी बताया जाता है कि खालसा एड ने यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध के दौरान भी वहां लोगों को भोजन उपलब्ध करवाया था।

उधर रवि सिंह के ट्विटर एकाउंट पर बैन लगने के बाद भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने आपत्ति जताते हुए सरकार पर तीखा हमला बोला है। चढूनी ने लिखा कि सरकार शर्म है तो चुल्लू भर पानी में नाक ही डूबो लो। अब वह दिन नजदीक ही है, जब पूरा देश खिलाफत और बगावत करने के लिए खड़ा होगा।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles