महानगर में इन दिनों लाउडस्पीकर पर अजान और हनुमान चालीसा प्रकरण सुर्खियों में है। इसी बीच सोमवार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में हुए विरोध मार्च के दौरान छात्र फरीद मिर्जा ने हनुमान चालीसा का पाठ किया।

इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। फरीद का कहना है कि हनुमान चालीसा का पाठ करने की पीछे की मंशा भाईचारा और एकता का संदेश देना है।

सोमवार को एएमयू में छात्रों ने इस्लामोफोबिया के खिलाफ विरोध मार्च निकाला था। इस दौरान छात्रों ने बाब-ए-सैयद पर रोजा इफ्तार किया और नमाज भी पढ़ी। छात्रों ने पोस्टर बैनर लेकर भाजपा सरकार और विश्व हिंदू परिषद के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की थी। प्रदर्शन के दौरान बाब-ए-सैयद पर बीए द्वितीय वर्ष के छात्र फरीद मिर्जा ने हनुमान चालीसा सुनाई। उन्होंने कहा कि मुट्ठी भर लोग देश की हिंदू-मुस्लिम एकता की खूबसूरती को बदनाम करना चाहते हैं। इसलिए हनुमान चालीसा पाठ करके वह ऐसे लोगों को संदेश देना चाहते हैं। छात्रों ने कहा कि अगर हिंदू समाज के लोगों को लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा का पाठ करना है तो बिल्कुल करें, लेकिन मस्जिद में होने वाली अजान का विरोध न करें।

मैंने हनुमान चालीसा की चौपाइयों का पाठ किया था। इसके जरिये यह पैगाम देना चाहते हैं कि हम कभी और किसी पंथ के खिलाफ न तो पहले थे, न आज हैं और न ही भविष्य में रहेंगे।-फरीद मिर्जा, छात्र बीए द्वितीय वर्ष, एएमयू

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment