भारत के मुसलमानों पर तालिबान का बड़ा बयान, अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों की दिलाई याद

मनोरंजनभारत के मुसलमानों पर तालिबान का बड़ा बयान, अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों की दिलाई याद

नई सरकार के गठन से पहले तालिबान ने भारत को लेकर बड़ा बयान दिया है. तालिबानी प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने भारत में (मुस्लिम) अल्पसंख्यकों को लेकर टिप्पणी की है.

उन्होंने कहा कि अगर आप (भारत) मेरे देश में अल्पसंख्यकों के लिए आवाज उठाने का अधिकार खुद को देते हैं तो हमें भी आपके देश में अल्पसंख्यकों के लिए आवाज उठाने का अधिकार क्यों नहीं होना चाहिए?

सुहैल शाहीन ने कहा कि मैं किसी सैन्य अभियान की बात नहीं कर रहा हूं क्योंकि हमारे पास विदेशी एजेंडा नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारा अन्य देशों में सैन्य रूप से हस्तक्षेप करने का इरादा है और न ही किसी और को दूसरों के खिलाफ हमारी धरती का इस्तेमाल करने की इजाजत है. 

नई सरकार की अगुवाई करेंगे मुल्ला बरादर

तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन का ये बयान तब आया है जब अफगानिस्तान में तालिबान सरकार बनने जा रही है. बता दें कि अफगानिस्तान में तालिबान की नई सरकार की रूपरेखा तैयार हो गई है. मुल्ला बरादर नई सरकार की अगुवाई करेंगे. 

वहीं, तालिबान की तरफ से काफी दिनों से काबुल में नई सरकार के गठन की तैयारियां की जा रही हैं. काबुल के राष्ट्रपति पैलेस में सजावट जारी है, नए झंडे तैयार हो हो रहे हैं और हाल ही में नया वीडियो रिलीज़ हुआ है.  

तालिबान ने किया पंजशीर पर कब्जे का दावा 

सरकार के गठन से कुछ समय पहले तालिबान ने पंजशीर घाटी पर भी कब्जा करने का दावा किया. हालांकि, पूर्व उप-राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने तालिबान के दावे के दावे को खारिज कर दिया है. पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने कहा, ‘कुछ मीडिया में ऐसी खबरें चल रही हैं कि मैं अपने देश से भाग गया हूं. यह बिल्कुल निराधार है.  है. यह मेरी आवाज है, मैं आपको पंजशीर घाटी से, अपने बेस से बोल रहा हूं.’ 

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles