9.2 C
London
Sunday, April 14, 2024

नेता जी सुभाष चन्द्र बोस की बेटी का बड़ा बयान, कहा – RSS की विचारधारा के खिलाफ थे मेरे पिता जी

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

कोलकाता: 23 जनवरी को कोलकाता में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जयंती की मनाने की तैयारी में है। इस बीच, नेताजी की बेटी अनीता बोस फाफ ने इस पूरे समारोह का विरोध किया है तथा बड़ा बयान दिया है।

अनीता बोस फाफ ने कहा- नेताजी RSS की विचारधारा के आलोचक थे। उन्होंने कहा कि मेरे पिता एक ऐसे शख्स थे जो हिंदू थे किन्तु सभी धर्मों का सम्मान करते थे तथा सभी के साथ रह सकते थे। यह मत सोचिए कि RSS इसमें विश्वास करता है।

आगे उन्होंने कहा- अगर RSS ने नेताजी की विचारधारा को अपनाना आरम्भ कर दिया है तो यह भारत के लिए अच्छा होगा। नेताजी धर्मनिरपेक्षता में भरोसा करते थे तथा मुझे भरोसा नहीं हो रहा है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उस विचारधारा में भरोसा रखती है। अनीता बोस फाफ ने कहा कि यदि RSS हिंदू राष्ट्रवादी विचारों को प्रचारित करना चाहता है तो यह नेताजी की विचारधारा से मेल नहीं खाएगा और यदि इसके लिए नेताजी का उपयोग किया जाता है तो मैं इसकी प्रशंसा नहीं करूंगी।

बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत 23 जनवरी को कोलकाता में मेगा रैली करने जा रहे हैं। इस के चलते वे नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि भी देंगे। मोहन भागवत बंगाल के पांच दिवसीय दौरे पर रहेंगे, जहां वह विभिन्न गणमान्य लोगों से मुलाकात करेंगे। 23 जनवरी को भागवत नेताजी का जन्मदिन नेताजी लह प्रणाम के रूप में मनाएंगे। RSS के पूर्व क्षेत्र संचालक अजय नंदी ने बताया है कि RSS ने हमेशा देश के महान नेताओं का जन्मदिन मनाया है। बोस और RSS के संस्थापक डॉ। हेडगेवार का कांग्रेस के दिनों से एक-दूसरे से संबंध रहा है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Ahsan Ali
Ahsan Ali
Journalist, Media Person Editor-in-Chief Of Reportlook full time journalism.

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img