13.1 C
Delhi
Sunday, January 29, 2023
No menu items!

NDTV के प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने डायरेक्‍टर पद से दिया इस्तीफा, अडानी ग्रुप की बोर्ड में एंट्री

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्‍ली. एनडीटीवी (NDTV) के मालिक और संस्थापक प्रणय रॉय (Prannoy Roy) और राधिका रॉय (Radhika Roy) ने आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड (RRPRH) के डायरेक्‍टर पद से इस्तीफा दे दिया है. बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (BSE) को दी जानकारी में कंपनी ने बताया है कि त्‍यागपत्र मंगलवार, 29 नवंबर से प्रभावी हो गया है. सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया (Sanjay Puglia) और सेंथिल सिन्नैया चेंगलवारायण (Senthil Sinniah Chengalvarayan) को आरआरपीआरएच के बोर्ड में निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है. इन नियुक्तियों के साथ ही अडानी ग्रुप की एनडीटीवी के बोर्ड में एंट्री हो गई है.

राधिका रॉय और प्रणय रॉय एनडीटीवी के सह-संस्थापक हैं. आरआरपीआर के निदेशक के रूप में उनका इस्तीफा फर्म द्वारा विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) को अपनी इक्विटी पूंजी के 99.5 प्रतिशत तक के शेयरों को स्थानांतरित करने के एक दिन बाद आया है. वीसीपीएल का स्वामित्व अडानी समूह की मीडिया शाखा एएमजी मीडिया नेटवर्क लिमिटेड (AMNL) के पास है.

- Advertisement -

आरआरपीआर होल्डिंग ने बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (BSE) स्टॉक एक्सचेंज को भेजे एक पत्र में कहा है कि शेयरों के हस्तांतरण से अडानी समूह को एनडीटीवी में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी मिल जाएगी. इसके साथ अडानी समूह ने 26 प्रतिशत अतिरिक्‍त हिस्सेदारी के लिए भी ओपन ऑफर पेश किया है. सेबी ने 7 नवंबर को 492.81 करोड़ रुपये की इस खुली पेशकश को मंजूरी दी थी. इसके जरिए 294 रुपये प्रति शेयर की कीमत से 1 करोड़ 67 लाख शेयरों की पेशकश की गई है.

5 दिसंबर तक है ओपन ऑफर

23 अगस्त को गौतम अडानी समूह ने एनडीटीवी में 29.18 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी, तभी अडानी ग्रुप ने एनडीटीवी के 26 फीसदी शेयर खरीदने का ऐलान किया था. इसके लिए ओपन ऑफर लाए जाने की बात कही थी. अडानी ग्रुप ने 22 नवंबर को ओपन ऑफर पेश किया था जो 5 दिसम्बर तक खुला हुआ है. अडानी ग्रुप ने अगस्त, 2022 में विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) का अधिग्रहण करने का ऐलान किया था. वीसीपीएल ने 2009 और 2010 में एनडीटीवी के प्रमोटर यानी प्रणय रॉय और राधिका रॉय को 403.85 करोड़ रुपये का ऋण दिया था. इस कर्ज के एवज में कर्जदाता से किसी भी समय एनडीटीवी में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का प्रावधान रखा था.

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img