नई दिल्ली, 29 मई: केरल में हाल ही में भड़काऊ नारेबाजी को लेकर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के नेता याहिया तंगल ने शनिवार को उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों के खिलाफ एक विवादास्पद टिप्पणी करते हुए कहा कि उनका ‘इनरवियर भगवा’ है।

तंगल ने अलाप्पुझा में एक रैली में कहा कि अदालतें अब आसानी से चौंक रही हैं। हमारी अलाप्पुझा रैली के नारे सुनकर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश चौंक रहे हैं। क्या आप इसका कारण जानते हैं? इसका कारण यहा है कि उनका इनरवियर भगवा है। भगवा होने के चलते वह बहुत तेजी से गर्म हो जाते हैं। आप जले महसूस करेंगे और यह आपको परेशान करेगा।

भड़काऊ नारेबाजी का वीडियो वायरल

पीएफआई रैली में एक लड़का नारा लगाते हुए देखा गया था। वायरल वीडियो में लड़का भड़काऊ नारेबाजी कर रहा है। हिंदुओं को अपने अंतिम संस्कार के लिए चावल रखना चाहिए और ईसाइयों को अपने अंतिम संस्कार के लिए धूप रखनी चाहिए। यदि आप शालीनता से रहते हैं, तो आप हमारी भूमि में रह सकते हैं और यदि आप शालीनता से नहीं रहते हैं, तो हम आजादी का मतलब जानते हैं। बस शालीनता, शालीनता और शालीनता से रहें।

18 और लोग गिरफ्तार

वहीं, केरल पुलिस ने शुक्रवार को पीएफआई की नारेबाजी मामले में 18 और लोगों को गिरफ्तार किया है। केरल उच्च न्यायालय ने पुलिस को अलाप्पुझा में 21 मई की रैली के संबंध में कथित भड़काऊ नारेबाजी के संबंध में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

rss से लड़ना जारी रखेंगे

इससे पहले पीएफआई के प्रदेश अध्यक्ष सीपी मुहम्मद बशीर ने मंगलवार को कहा कि यह नारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी आरएसएस आतंकवाद से लड़ना और उसका विरोध करना जारी रखेगी।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment