सड़क पर उतरे मुसलमान: आक्रोशित बोले- सब कुछ बर्दाश्त, मगर नबी-ए-करीम की शान में गुस्ताखी नहीं

शिक्षासड़क पर उतरे मुसलमान: आक्रोशित बोले- सब कुछ बर्दाश्त, मगर नबी-ए-करीम की शान में गुस्ताखी नहीं

मुसलमानों ने जुमे की नमाज के बाद भाजपा की प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ पैगंबर-ए-इस्लाम पर आपत्तिजनक टिप्पणी का आरोप लगाते हुए पुराना शहर में प्रदर्शन किया।

जुलूस की शक्ल में हाथों में तख्तियां लेकर निकले मुसलमानों को रास्ते में रोककर तहरीर ली और कानूनी कार्रवाई करने का आश्वासन देकर उन्हें लौटा दिया। 


पुराना शहर के रजा चौक पर जुमे की नमाज के बाद इकट्ठे हुए तमाम मुसलमानों हाथों में तख्तियां लेकर नारेबाजी और प्रदर्शन करते हुए भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा को गिरफ्तार करने की मांग की। प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे जमात रजा मुस्तफा के प्रवक्ता समरान खान ने कहा कि हुजूर की शान में गुस्तखी काबिले बर्दाश्त नहीं है। मुस्लिम खुद गाली खाकर चुप रह सकता है, उत्पीड़न बर्दाश्त कर सकता है मगर अपने नबी-ए-करीम के खिलाफ एक शब्द नहीं सुन सकता। 


इससे पहले बारादरी मस्जिद के इमाम मौलाना अजहर रजा खां ने भी जुमे की नमाज के बाद अपनी तकरीर में हुकूमत से ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की मांग की। इसके बाद सड़क पर मार्च करते हुए प्रदर्शनकारी थाना बारादरी की ओर निकले लेकिन रास्ते में पहले से तैनात पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया। 

इंस्पेक्टर बारादरी नीरज मलिक ने रजा चौक पर ही उनसे तहरीर देकर प्रदर्शन खत्म करने की बात कही मगर इसके बाद भी प्रदर्शनकारी आगे बढ़ गए। कुछ ही दूर आगे सैलानी के मुख्य मार्ग पर पुलिस ने उन्हें रोक तहरीर वहीं ले ली और कार्रवाई का आश्वासन देकर लौटा दिया। प्रदर्शन में हाफिज फुरकान रजा, जिलानी कुरैशी, आजम रजा तहसीनी, मुस्तफा नूरी, चांद नूरी, आसिफ रजा, समीर रजा अजहर हुसैन, फैजान अजहरी, नादिर कुरैशी आदि शामिल थे।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles