20.2 C
London
Saturday, April 13, 2024

मुस्‍ल‍िम युवक 10 साल से चला रहा था जूस की दुकान, बजरंग दल ने करवाई बंद

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद (Moradabad) जिले में गुरुवार शाम को बजरंग दल (Bajrang Dal) के कार्यकर्ताओं ने जयश्री राम के नारे लगाकर मुस्लिम दुकानदार की जूस की दुकान बंद करा दी. बताया जा रहा है कि शब्बू नाम का युवक हिंदू इलाके में न्यू साईं जूस सेंटर के नाम से दुकान चला रहा था. इस दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने उसकी दुकान पर जमकर हंगामा किया. वहीं नारेबाजी करते उसकी दुकान बंद करा दी.

शब्बू खां नाम के मुस्लिम व्यक्ति ने शहर के हिंदू इलाके बुद्धि विहार में न्यू साईं जूस सेंटर के नाम से 10-12 साल से दुकान खोल रखी थी. बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जबरन दुकान का शटर बंद करा दिया और घंटाभर तक हंगामा और नारेबाजी की. देर रात तक इस मामले को लेकर पुलिस – प्रशासनिक अधिकारी मझोला थाने पर डटे थे.

दुकान बंद कराने पहुंचे बजरंग दल के कार्यकर्ता नवनीत शर्मा ने कहा कि दुकानदार शब्बू नाम बदलकर हिंदू नाम से इलाके में 10-12 साल से जूस सेंटर चला रहा था. उसने लोगों को झांसा देने के लिए हिंदू नाम से दुकान खोल रखी थी. नवनीत ने कहा इसी दुकान पर काम करने वाला सलमान नाम का एक युवक 2 माह पहले एक हिंदू लड़की से छेड़छाड़ के मामले में पॉक्सो एक्ट में जेल में बंद है. आरोप लगाया कि जूस सेंटर की आड़ में हिंदू इलाके में लव जिहाद को अंजाम दिया जा रहा है.

बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने हर-हर महादेव और जयश्रीराम के नारे लगाते हुए शब्बू की दुकान का शटर जबरन बंद करा दिया. चेतावनी दी कि यदि बाकी मुस्लिम दुकानदार भी इस तरह हिंदू बस्तियों में नाम बदलकर खोली गई अपनी दुकानें खुद से बंद नहीं करेंगे तो बजरंग दल अभियान चलाकर उन्हें बंद कराएगा. दुकानदार शब्बू ने कहा कि वह करीब 10- 12 साल इसी स्थान पर अपनी जूस की दुकान चला रहा है.

पहले कभी दिक्कत नहीं हुई. लेकिन बजरंग दल कार्यकताओं ने जबरन उसकी दुकान बंद करा दी. शब्बू ने कहा कि उसकी दुकान इसलिए बंद करा दी गई क्योंकि वह मुसलमान है.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here