[email protected]

शौहर का बदला लेने के लिए रचाया निकाह फिर हमेशा की नींद सुला दिया

- Advertisement -
- Advertisement -

“मैंने अपने पहले पति की मौत का बदला लेने की ठान ली थी और हत्यारे से दोस्ती की, फिर उससे शादी की और फिर आख़िरकार बदला ले लिया.”

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े के बाजौर ज़िले की रहने वाली इस महिला को पुलिस ने गिरफ़्तार कर कोर्ट में पेशी के बाद चकदरा जेल भेज दिया है.

अभियुक्त महिला का कहना है कि वह अपने पति की मौत का बदला लेने के लिए तीन साल से कोशिश कर रही थीं और इसके लिए, उन्होंने पूरी योजना बनाई थी.

पुलिस को सूचना और कार्रवाई

बाजौर ज़िले के इनायत क़िले में लुइसिम थाने के इंस्पेक्टर विलायत ख़ान ने बीबीसी को बताया कि यह एक मुश्किल केस था, जिसके लिए उन्होंने कोशिश की और कामयाबी हासिल की.

अभियुक्त के पहले पति की तीन साल पहले मौत हो गई थी, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि उनकी हत्या की गई थी या उनकी प्राकृतिक मृत्यु हुई थी. अभियुक्त ने निजी तौर पर पता किया और इनका कहना है कि इनके पति को उनके दोस्त गुलिस्तान ने ज़हर का इंजेक्शन लगाकर मार दिया था.

थाने में उनकी मौत या हत्या का कोई मामला दर्ज नहीं है. पुलिस ने बताया कि तीन साल पहले इस इलाक़े में कोई पुलिस थाना नहीं था और न कोई ऐसा दस्तावेज़ मिला है, जिससे यह पता चले कि शाह ज़मीन की हत्या की गई थी.

पुलिस के मुताबिक़, दो दिन पहले उन्हें सूचना मिली थी कि गुलिस्तान नाम के शख़्स की गोली मारकर हत्या कर दी गई है.

पुलिस इंस्पेक्टर विलायत ख़ान का कहना था कि इस सूचना के बाद, उन्होंने पास की एक चेक पोस्ट पर पुलिस और अपने सूत्रों को कह दिया था कि उस जगह से कोई भी बाहर न जाने पाए और वह अपनी टीम के साथ पहुँच रहे हैं.

विलायत ख़ान ने बीबीसी को बताया, “जब हम वहां पहुँचे, तो बिस्तर पर ख़ून से लथपथ लाश पड़ी हुई थी, एक गोली सिर में लगी थी और एक गोली शरीर के दाहिने हिस्से में लगी थी. अभियुक्त मृतक के साथ बैठी थी. घर के बाहर और अंदर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए थे. हमने लोगों को एक तरफ़ कर जाँच शुरू की और मौक़े पर से सबूत हासिल किए.”

क़बायली महिला की अफ़ग़ान शाह ज़मीन से मोहब्बत

पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक़, अभियुक्त ने बताया कि उनके पहले पति अफ़ग़ानिस्तान के कुनार प्रांत के रहने वाले अफ़ग़ान शरणार्थी थे. महिला के अनुसार उनके पति पेशावर में काम करते थे और उनकी ज़िंदगी बहुत ही हंसी ख़ुशी के साथ गुज़र रही थी. पुलिस का कहना है कि उनकी एक बेटी भी थी.

पुलिस के अनुसार अभियुक्त ने अपने बयान में कहा है, “मेरे पति की गुलिस्तान नाम के एक शख़्स से दोस्ती थी. मेरे पति पेशावर से जो कुछ कमाते थे वो सब रखने के लिए गुलिस्तान को भेज देते थे, कि जब ज़रूरत पड़ेगी तो उससे पैसे वापिस ले लेगा. गुलिस्तान के साथ उनकी गहरी दोस्ती थी.”

अभियुक्त के पति कुछ समय बाद वापस आए और गुलिस्तान से कहा कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है. मुझे मेरे पैसे वापस चाहिए, लेकिन गुलिस्तान ने पैसे नहीं लौटाए और कहा कि अभी पैसे नहीं हैं.

विलायत ख़ान के मुताबिक़, अभियुक्त ने अपने बयान में कहा, “गुलिस्तान ने मेरे पति को पैसे देने के बजाय ये कहा कि अगर तुम बीमार हो, तो मैं तुम्हारे लिए इनायत कली बाज़ार से दवा लाता हूं. गुलिस्तान दो इंजेक्शन और कुछ गोलियां लाया था. एक इंजेक्शन गुलिस्तान ख़ान ने नदी के किनारे शाह ज़मीन को लगा दिया और कहा कि दूसरा इंजेक्शन तुम बाद में घर पर लगा लेना और ये गोलियां भी खा लेना, आप इससे ठीक हो जाएंगे.”

बयान में आगे कहा गया है, कि “इंजेक्शन लेने के बाद मेरे पति की हालत और भी ज़्यादा बिगड़ गई और वह ज़मीन पर गिर गए. वहां मौजूद लोग मेरे पति को अस्पताल ले गए और फिर मृत अवस्था में मेरे पति को घर ले आए.”

बदले की योजना

अभियुक्त ने पुलिस को बताया कि इसके बारे में पता लगाया, तो लोगों ने बताया कि गुलिस्तान ने उसके पति को एक इंजेक्शन दिया था, जिसके बाद उनके पति की हालत बिगड़ गई थी.

उन्हें ऐसा लगा जैसे गुलिस्तान ख़ान ने उनके पति को मारा है और उस समय उन्होंने ये तय कर लिया था कि वह अपने पति का बदला ज़रूर लेंगी.

पुलिस के अनुसार, अभियुक्त ने बताया है कि पाँच-छह महीने तक वह अपने पति की मौत का बदला लेने की कोशिश करती रहीं, लेकिन उन्हें मौक़ा नहीं मिला, जिसके बाद उन्होंने फिर से योजना बनाई कि कैसे गुलिस्तान के क़रीब पहुँचें और फिर बदला लिया जाए.

पुलिस ने कहा कि अभियुक्त ने अपने बयान में कहा है कि उन्होंने फिर गुलिस्तान से शादी करने का फ़ैसला किया और उन्हें मैसेज भिजवाए. हालांकि गुलिस्तान पहले से शादीशुदा थे और उनका एक बेटा भी है, लेकिन उनके अनुसार उन्होंने गुलिस्तान ख़ान को लालच देकर राज़ी कर लिया था.

अभियुक्त महिला ने पुलिस को बताया कि उन्होंने गुलिस्तान से कहा कि “मेरे पास पैसे हैं. तुम एक गाड़ी ख़रीदो और उसमें घूमो. आप अपने वतन पर मज़दूरी करोगे और हम ख़ुशहाल ज़िंदगी गुज़ारेंगे.”

महिला ने पुलिस को बताया कि पिछले साल बड़ी ईद से पहले, उन्होंने शादी कर ली थी और छह महीने तक वे कभी किसी के घर रहे, कभी गुलिस्तान की बहन के घर में रहे. इसके बाद महिला ने गुलिस्तान को कहा कि किराए पर अपना घर ले लेते हैं. कब तक दूसरों के यहां ज़िंदगी गुज़ारेंगे?

पुलिस ने महिला के बयान का हवाला देते हए कहा, “उन्होंने इनायत कली में तीन हज़ार रुपये प्रति माह के हिसाब से एक मकान किराए पर ले लिया. इसके बाद अभियुक्त महिला ने गुलिस्तान से कहा कि हम यहां अकेले रहते हैं, कोई चोर न आ जाए, इसलिए अपनी सुरक्षा के लिए घर में एक पिस्तौल ज़रूर होनी चाहिए. गुलिस्तान साढ़े तेरह हज़ार रूपये में एक पिस्तौल ख़रीद लाया.”

पुलिस के अनुसार महिला ने आगे कहा, “मेरे पहले पति की मृत्यु को तीन साल हो चुके हैं और दो साल तक मैं इस कोशिश में थी कि कब और कैसे बदला लिया जाए. जब घर में पिस्टल आ गई तो इसके इस्तेमाल करने के मौक़े की तलाश में थी.”

घटना वाले दिन का ज़िक्र करते हुए अभियुक्त महिला कहती हैं, “मैं रात को जागती रही और रात को क़रीब एक बजे दूसरे कमरे में गई और पिस्तौल में गोलियां डालकर गुलिस्तान के कमरे में गई. गुलिस्तान सो रहा था मैंने उस पर गोली चलाई, लेकिन फ़ायर नहीं हो रहा था, पिस्तौल ने काम नहीं किया.”

पुलिस के अनुसार, वह वापस दूसरे कमरे में गईं और पिस्तौल चेक की. इसके बाद दोबारा गुलिस्तान के कमरे में गई और पहला फ़ायर गुलिस्तान के सिर पर और दूसरा फ़ायर उसके शरीर के दाहिने तरफ़ किया. गोली मारने के बाद वह सूरज निकलने तक वहीं बैठी रहीं. सूरज निकलने पर उन्होंने बाहर लोगों को बताया कि किसी ने उनके पति को मार दिया है, इसके बाद लोग जमा हो गए और फिर पुलिस भी मौक़े पर पहुँच गई.

पुलिस अधिकारी विलायत ख़ान ने बताया कि पहले वह यही कहती रहीं कि उन्होंने हत्या नहीं की है, लेकिन जब पुलिस ने जाँच शुरू की, तो उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया और सब कुछ बता दिया और पिस्तौल के बारे में भी बताया, जोकि संदूक़ में पड़ी थी. पुलिस ने वह पिस्तौल, मारे गए गुलिस्तान के बेटे की मौजूदगी में बरामद किया है.

स्थानीय लोगों का कहना था कि गुलिस्तान एक अच्छे स्वभाव के व्यक्ति थे, वह स्थानीय स्तर पर अपना काम करते थे. पुलिस ने बताया कि अभियुक्त महिला को कोर्ट में पेश करने के बाद, उन्हें जेल भेज दिया गया है.

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×