[email protected]

भारतीय टीम को बहुत बड़ा नुक़सान ICC ने एक गलती की वजह से सभी खिलाड़ियों के ऊपर मंडा ये आरोप

- Advertisement -
- Advertisement -

सेंचुरियन में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद भारतीय टीम में जश्न का माहौल था। लेकिन शुक्रवार को आईसीसी ने इस जश्न की रौनक को फीका कर दिया। आईसीसी ने टीम को स्लो ओवर रेट का दोषी पाते हुए सभी खिलाड़ियों पर मैच फीस का 20 प्रतिशत जुर्माना लगाया।

मैच के अंपायर्स ने टीम इंडिया को दोषी पाया।

इतना ही नहीं टीम का वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की पॉइंट्स टैली में से एक अंक भी काट लिया गया। आपको बता दें कि मैच रेफरियों के एमिरेट्स आईसीसी एलीट पैनल में शामिल एंड्रू पाइक्रॉफ्ट ने बताया कि, भारतीय टीम तय सीमा और कंसीडर करने के बावजूद दिए गए समय में एक ओवर कम फेंक पाई थी। जिसके कारण आईसीसी ने पूरी टीम को इसका दोषी पाया।

आईसीसी ने अपने ऑफिशियल बयान में बताया कि,”खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के लिए बने आईसीसी कोड ऑफ कंडक्ट के आर्टिकल 2.22 के मुताबिक भारतीय टीम को स्लो ओवर रेट का दोषी पाया गया। जिसके चलते पूरी टीम के सभी खिलाड़ियों की 20 प्रतिशत मैच फीस का जुर्माना लगाया गया।”

वहीं विराट कोहली ने इस गलती को स्वीकार लिया है और इस पर आगे की सुनवाई की जरूरत नहीं पड़ेगी। आर्टिकल 16.11 के मुताबिक स्लो ओवर रेट की दोषी पाए जाने के बाद टीम को हर एक ओवर कम करने के लिए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप टैली का एक पॉइंट गंवाना पड़ता है। भारत ने एक ओवर कम फेंका था तो टीम का एक पॉइंट घट गया है।

भारतीय टीम को हुआ नुकसान

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पॉइंट्स टेबल में एक अंक गंवाने के बाद भारतीय टीम को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। पहले से ही भारतीय टीम चौथे स्थान पर है। हालांकि टीम के पॉइंट्स 50 से ऊपर 54 थे जो अब घटकर 53 हो गए हैं। वह इकलौती टीम है, जिसके 50 से ज्यादा पॉइंट्स हैं। इसके बावजूद वह आईसीसी की अंक तालिका में शीर्ष पर नहीं है। यही नहीं, वह अंक तालिका में ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी नीचे है।

गौरतलब है कि भारत ने सेंचुरियन में खेले गए तीन मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 113 रनों से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। भारतीय टीम ने पहली बार द सुपर स्पोर्ट्स पार्क पर टेस्ट जीत हासिल की है। इससे पहले भारत ने यहां दो मैच खेले थे और दोनों गंवाए थे।

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×