Burqa clad Muslim women hold placards as they take part in a demonstration in Kolkata on February 11, 2022, to protest after students at government-run high schools in India's Karnataka state were told not to wear hijabs in the premises of the institute. (Photo by DIBYANGSHU SARKAR / AFP) (Photo by DIBYANGSHU SARKAR/AFP via Getty Images)

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा, कर्नाटक में हिजाब विवाद के लिए राज्‍य की सरकार जिम्‍मेदार है.

उन्‍होंने कहा कि कुरान में हिजाब पहनने का जिक्र है. उन्‍होंने कहा कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी ने हिजाब विवाद को हवा दी है.

लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, कोर्ट मौलिक अधिकार खत्‍म नहीं कर सकता. उन्‍होंने कहा कि हिजाब विवाद को बड़ा कर मुस्लिम बच्चियों को तालीम लेने से रोका जा रहा है. ओवैसी ने कहा अखिलेश यादव को मुस्लिमों का केवल वोट चाहिए. अखिलेश को मुस्लिमों का सशक्तिकरण नहीं चाहिए. आवैसी ने बीजेपी, कांग्रेस और सपा को चैलेंज देते हुए कहा कि 14 दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले सभी पार्टियां बस एक बार बोल दें कि उन्‍हें हिजाब वालियों का वोट नहीं चाहिए.

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि अखिलेश हिजाब विवाद पर चुप हैं. मेरा माना है कि महिलाओं के लिए यह बहुत बड़ा मुद्दा है. मेरे सर पर टोपी पहनने से तकलीफ नहीं होनी चाहिए. वर्षों से स्कूल में लड़कियां हिजाब पहन रही हैं. विवाद वहां की बीजेपी सरकार ने खुद शुरू किया है. उन्होंने इसे मुद्दा बनाया है. कोर्ट मौलिक अधिकार खत्‍म नहीं कर सकता. ओवैसी ने कहा कि मुस्लिम बच्चियों को तालीम से रोका जा रहा है. बच्चियां पहले से ही हिजाब पहन रही हैं. कुरान हिजाब पहनने की इजाजत देती है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Join the Conversation

1 Comment

  1. Ovaisi ko ab ye mudda “Maulik Adhikaaron” ka lag raha hai. Yahin jab unkey apney pradesh me Hinduon ke adhikaron ko dabaya jaata hai toh “Maulik Adhikaar” kahan ghus jatey hain.

Leave a comment