मुंबई: कर्नाटक हिजाब विवाद (Hijab Row) को लेकर मिस यूनिवर्स-2021 हरनाज संधू (Harnaaz Sandhu) का रिएक्शन आया है. उनका कहना है कि लड़कियों को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए. संधू ने कहा, ‘वे जैसे चाहती हैं उन्हें जीने दें.’ बता दें कि कर्नाटक उच्च न्यायालय की तीन-न्यायाधीशों की पीठ ने हाल में उन याचिकाओं को खारिज कर दिया था, जिनमें शैक्षणिक संस्थानों की कक्षाओं में हिजाब पहनने की अनुमति मांगी गई थी. अदालत ने अपने फैसले में कहा था कि हिजाब इस्लाम में आवश्यक धार्मिक प्रथा नहीं है और शैक्षणिक संस्थानों में निर्धारित ड्रेस कोड का पालन किया जाना चाहिए.

सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक क्लिप में एक पत्रकार ने संधू से हिजाब के मुद्दे पर उनके विचार पूछे. जिस पर उन्होंने लड़कियों को लेकर कहा, ‘वे जैसे चाहती हैं उन्हें जीने दें. उन्हें बेवजह निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए’. यह वीडियो यहां 17 मार्च को मिस यूनिवर्स-2021 की घर वापसी के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम का है. गौरतलब है कि कर्नाटक में हिजाब को लेकर काफी बवाल हो चुका है.

आयोजक को थी सवाल से आपत्ति

हालांकि, सवाल-जवाब के दौरान आयोजक ने हस्तक्षेप करते हुए पत्रकार को कोई भी राजनीतिक सवाल पूछने से परहेज करने के लिए कहा. आयोजक ने मीडिया को संधू की यात्रा, सफलता और प्रेरणास्रोत बनने के बारे में सवाल पूछने का सुझाव दिया. इस पर पत्रकार ने जवाब दिया कि हरनाज को यही बात कहने दीजिए. इसके बाद संधू ने समाज में लड़कियों को निशाना बनाए जाने पर नाराजगी प्रकट की.

मिस यूनिवर्स ने दिया ये जवाब

मिस यूनिवर्स ने कहा, ‘ईमानदारी से बताइए, आप हमेशा लड़कियों को ही क्यों निशाना बनाते हैं? अब भी आप मुझे निशाना बना रहे हैं. जैसे, हिजाब के मुद्दे पर लड़कियों को निशाना बनाया जा रहा है. उन्हें (लड़कियों को) उनकी मर्जी से जीने दीजिए, उन्हें उनकी मंजिल तक पहुंचने दीजिए, उन्हें उड़ने दीजिए. उनके पंख मत काटिए. काटने ही हैं तो अपने पंख काटिए’. इसके बाद संधू ने पत्रकार से उनकी यात्रा, उसके सामने आने वाली बाधाओं और इस साल की शुरुआत में हुई सौंदर्य प्रतियोगिता में सफलता हासिल करने के बारे में सवाल पूछने के लिए कहा.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment