बांग्लादेश में एक बार फिर हिंदू मंदिर पर हमले का मामला सामने आया है. बांग्लादेश की राजधानी ढाका में स्थित ISKCON राधाकांता मंदिर पर गुरुवार शाम को भीड़ ने हमला कर दिया. हमले में तोड़फोड़ की गई और भीड़ यहां रखी कीमती वस्तुओं को भी लूट ले गई. हमले में कई लोगों के जख्मी होने की भी खबर है.

बताया जा रहा है कि ढाका के वारी में 222 लाल मोहन साहा स्ट्रीट में स्थित इस्कॉन राधाकांता मंदिर में शाम 7 बजे ये हमला हुआ. ये हमला हाजी सैफुल्लाह की अगुआई में 200 से ज्यादा लोगों की भीड़ ने किया. मंदिर में तोड़फोड़ और लूट की गई. हमले में सुमंत्रा चंद्र श्रवण, निहार हल्दार, राजीव भद्र और अन्य कई लोग भी जख्मी हुए हैं.

यह पहला मौका नहीं है, जब बांग्लादेश में हिंदुओं के मंदिर पर हमला हुआ है. इससे पहले पिछले साल नवरात्रि पर हिंदुओं के खिलाफ अफवाह फैलाकर दुर्गा पूजा पंडालों पर हमले किए गए थे. इतनी ही नहीं हिंदुओं के घरों पर हमले किए गए थे. वहीं, ढाका में स्थित ISKCON मंदिर पर भी हमला किया गया था. 

बांग्लादेश में हिंदुओं पर 9 साल में 3600 से ज्यादा हमले

बांग्लादेश में अल्पसंख्यक अधिकारों पर काम कर रही संस्था AKS के अनुसार पिछले 9 साल में बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों को 3679 बार हमलों का सामना करना पड़ा. इस दौरान 1678 मामले धार्मिक स्थलों में तोड़फोड़ और हथियारबंद हमलों के सामने आए. इसके अलावा घरों-मकानों में तोड़-फोड़ और आगजनी समेत हिंदू समुदाय को निशाना बनाकर लगातार हमले किए गए.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment