चेचन्या के दबंग नेता और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सहयोगी रमजान कादिरोव ने पोलैंड को चेतावनी दी है, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में वह कहते नजर आ रहे हैं कि यूक्रेन का मुद्दा ‘बंद’ हो चुका है और अब उनकी दिलचस्पी पोलैंड में है. 

‘पोलैंड यूक्रेन से वापस ले हथियार’ 

कादिरोव ने पोलैंड को चेतावनी में कहा कि वह यूक्रेन से अपने हथियार वापस ले ले क्योंकि वह उस पर हमला करने को तैयार हैं. कादिरोव ने इस महीने की शुरुआत में रूस के राजदूत से जुड़ी एक घटना के लिए पोलैंड से माफी की भी मांग की, जहां  विजय दिवस समारोह के दौरान युद्ध विरोधी प्रदर्शनकारियों ने उन पर लाल रंग फेंक दिया था. 

वायरल वीडियो में रमजान कहते सुनाई पड़ रहे हैं, ”यूक्रेन का मुद्दा खत्म हो चुका है, अब मेरी पोलैंड में दिलचस्पी है. यह क्या हासिल करने की कोशिश कर रहा है?” पोलैंड को धमकी देते हुए चेचन नेता ने आगे कहा, ‘यूक्रेन के बाद अगर हमें आदेश दिया जाए तो हम 6 सेकंड के भीतर बताएंगे कि हम क्या कर सकते हैं. बेहतर होगा कि आप अपने हथियार और भाड़े के सैनिकों को वापस ले लें और आपने हमारे राजदूत के साथ जो किया उसके लिए आधिकारिक क्षमा मांगें. हम इसे अनदेखा नहीं करेंगे, इसे ध्यान में रखें.’ 

फरवरी से रूस-यूक्रेन के बीच जारी है युद्ध

हालांकि यह पुष्टि नहीं हो पाई कि यह वीडियो कब और कहां फिल्माया गया. पोलैंड उन देशों में शामिल है, जिन्होंने यूक्रेन को रूस से लड़ने के लिए हथियार दिए हैं. रूस-यूक्रेन के बीच फरवरी से युद्ध जारी है. पोलैंड की सरकार ने कहा कि उसने 1.6 बिलियन डॉलर के हथियार यूक्रेन को सप्लाई किए हैं, जिसमें हजारों टैंक, होवित्जर तोपें और ग्रैड रॉकेट लॉन्चर्स हैं. दिलचस्प बात है कि, कादिरोव अकेले ऐसे नेता नहीं हैं जिन्होंने हाल के हफ्तों में पोलैंड पर आक्रमण की बात कही है.

न्यूजवीक की रिपोर्ट के मुताबिक,  टेलीग्राम के अंग्रेजी अनुवाद के अनुसार, रूसी संसद के सदस्य और पुतिन के राजनीतिक दल, यूनाइटेड रशिया के एक शीर्ष सदस्य ओलेग मोरोज़ोव ने इस महीने की शुरुआत में सुझाव दिया था कि पोलैंड को ‘यूक्रेन के बाद संप्रदायीकरण के लिए कतार में पहले नंबर पर’ होना चाहिए. 

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment