सहारनपुर. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में स्थित देवबंद के इस्लामी तालीम के प्रमुख केंद्र दारुल उलूम के चांसलर मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी ने बड़ा बयान दिया है. नोमानी ने मुसलमानों को बुजदिली का रास्ता छोड़ने और समझदारी से हालात का मुकाबला करने के लिए कहा है.

नोमानी ने अपने ट्विटर हैंडल पर ऑडियो जारी करते हुए कहा कि ‘अगर जानमाल पर आंच आए तो छत पर चढ़कर नारा-ए-तकबीर बुलंद न करें, पूरी ताकत के साथ हालात का मुकाबला करें. साथ ही दुनिया के सामने मजहब-ए-इस्लाम की सही तस्वीर पेश करें.’

 मुफ्ती नोमानी ने देश में कई स्थानों पर हुए सांप्रदायिक दंगों पर चिंता जाहिर की है. उन्होंने कहा कि मुसलमान अपने गुनाहों से तौबा करें. अपनी जिंदगी में इस्लामी तालीम को अपनाएं. देश के लोग और पड़ोसियों के सामने इस्लाम की असली तस्वीर पेश करें. इससे उनके जेहन में, जो गंदगी भरी जा रही है, वह साफ हो सकेगी.

मुफ्ती ने कहा कि यदि हमारी जानमाल, इज्जत और आबरू पर कोई हमला करता है, तो अल्लाह ने जितनी ताकत दी है, उसके साथ मुकाबला करें. मौत इज्जत के साथ आए, क्योंकि मौत तो एक दिन आनी है. दिलों में बुजदिली और कमजोरी बैठाकर अपने आपको दूसरों के सुपुर्द कर देना ईमान वालों की शान में नहीं है. मौलाना ने देश के वर्तमान हालात पर सियासतदानों की खामोशी पर भी गहरी चिंता जाहिर की है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment