रामनवमी पर देश के विभिन्न हिस्सों में हुई हिंसा पर एक डिबेट के दौरान बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया और एक राजनीतिक विशेषज्ञ के बीच बहस छिड़ गई और दोनों एक-दूसरे को धमकी देने लगे।

डिबेट में आठ राज्यों में रामनवमी के दिन जुलूस में शामिल उपद्रवियों और दूसरे समुदाय की तरफ से आईं प्रतिक्रिया को लेकर सवाल पूछे जा रहे थे, जिस पर दोनों नेताओं के बीच बहस बहुत ज्यादा बढ़ गई।

डिबेट के दौरान पैनलिस्ट मोहम्मद आसिफ ने भगवा झंडे का मुद्दा उठाया। इस पर भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने विवादित बयानबाजी करते हुए पूरे इस्लाम धर्म पर ही कहा कि सारे आतंकवादी तुम्हारे धर्म से आते हैं और फिर बोलते हो कि आतंकवाद का धर्म नहीं होता। यहां पर भगवा झंड़ा बोल रहे हो। तिरंगे में भगवा नहीं है क्या? जालीदार टोपी बोलने की हिम्मत है तुम्हारी।

गौरव भाटिया के इस सवाल पर आसिफ भड़क गए और गौरव भाटिया को लताड़ लगाते हुए हुए बोले, “हिम्मत देखी कहां है। अपने शहर में हम बताएंगे हमारी हिम्मत तुम्हारी नस्लें याद रखेंगी हमारी हिम्मत। मुसलमान की हिम्मत को ललकारो मत।”

इस बीच सदैव की तरह एंकर दोनों पक्षों को शांत कराने के नाम पर एक तरफा साइड लेते हुए बोले कि मोहल्ले की बात मत करो। मोहल्ला क्या होता है तो पैनल्सिट चैनल पर टीआरपी के लिए डिबेट कराने का आरोप लगाने लगे। जिस पर एंकर को भी मिर्ची का गई और इस पर एंकर ने कहा कि टीआरपी की फुल फॉर्म पता है। जब भगवा झंडा बोल रहे थे तो टीआरपी याद नहीं आई।

एंकर ने कहा कि मोहल्ले की बात नहीं करते हैं तो पर आसिफ ने कहा कि ये मोहल्ला आपका है और ये मुल्क हमारा है खुल्ले अल्फाज में बोल रहा हूं। आप लोग महल्लों में मस्जिदों पर भगवा झंडे लगाओ।

गौरव भाटिया ने भी खूब वार करने की कोशिश की और पूछा पहले देश है या धर्म है बताओ? अगर देश पहले है तो कश्मीर की मस्जिद से जो बोला गया अलग हो जाए तो ओवैसी निकलकर क्यों नहीं बोलते कि गलत बात बोली गई।

इस पर पैनलिस्ट सवाल करते हुए बोले, “आप बताओ मोदी ” पैनिलस्ट ने पीएम मोदी का जिक्र करते हुए पूछा आपके लिए मोदी बड़े हैं या गोडसे। तो एंकर ने उनको टोकते हुए बोला वो आपके भी पीएम हैं। और गौरव भाटिया भी भड़कते हुए कहा कि तमीज से बात करो।

एंकर ने मोहम्मद आसिफ से जब आठ राज्यों में राम भक्तों पर हुए हमलों को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि ये पैटर्न पूरी तरह से आरएसएस ने तैयार किया है। इस मुल्क को बचाने के लिए हम हिंदुत्वता के खिलाफ लड़ते रहेंगे।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment