लखनऊ, उत्तर प्रदेश कांग्रेस मीडिया संयोजक प्रवक्ता अशोक सिंह ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के आहवान पर देशव्यापी विरोध प्रदर्शन स्वरूप मौन व्रत के क्रम में आज लखनऊ स्थित हजरतगंज में गांधी प्रतिमा (जी.पी.ओ) पर भारतीय कांग्रेस की महासचिव और प्रभारी उत्तर प्रदेश प्रियंका गांधी शामिल हुईं और मौन रखकर लखीमपुर में हुए किसानों के नरसंहार में शहीद हुए किसान परिवारों को न्याय दिलाने व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी की मंत्रीमंडल से बर्खास्तगी की मांग की।

मौन व्रत के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि लखीमपुर में काले कानूनों के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे किसानों व पत्रकार की, केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री की गाड़ियों से निर्ममता से हत्या कर दी गयी। ऐसे में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री के रहते पीड़ित परिवारों को इंसाफ नहीं मिल सकता। इंसाफ मिलने तक यह सत्याग्रह की लड़ाई जारी रहेगी।

प्रवक्ता अशोक सिंह ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि किसानों के साथ घटी ह््रदय विदारक घटना से देश भर में आक्रोश है और सरकार आरोपियों को बचाने में लगी है। ऐसा कभी नही हुआ जैसा भाजपा राज में हो रहा, उम्भा, हाथरस, उन्नाव, गोरखपुर लखीमपुर में आरोपियों के साथ खड़ा रहा योगी शासन यदि उपरोक्त घटनाओं में हमारी नेता प्रियंका गांधी ने सड़क पर आकर पीड़ितों के लिये न्याय न मांगा होता तो योगी शासन आरोपियों को बचाने में कामयाब हो जाता। उंन्होने कहा कि प्रदेश अपराध के जंगलराज से कराह रहा है, हर तरफ अन्याय की फसल उगाने वाली भाजपा शासन से जनता त्रस्त है, इस सरकार को उखाड़ फेंकने के साथ न्याय का शासन स्थापित करना है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment