14.1 C
Delhi
Thursday, December 8, 2022
No menu items!

तालिबान ने एक और प्रांतीय राजधानी पर नियंत्रण किया: अफगान अधिकारी

- Advertisement -
- Advertisement -

काबुल। अफगानिस्तान में तालिबान ने एक और प्रांतीय राजधानी पर नियंत्रण कर लिया है जो एक सप्ताह से भी कम समय में विद्रोहियों के हाथों में जाने वाली चौथी प्रांतीय राजधानी है। यह सरकारी बलों के लिए एक झटका है। यह जानकारी प्रांतीय जनप्रतिधियों ने दी। तखार प्रांत के दो जनप्रतिनिधियों ने कहा कि तालिबान लड़ाकों ने रविवार को उत्तरी तखार प्रांत की राजधानी तालेकान पर नियंत्रण कर लिया। उन्होंने कहा कि तालिबान लड़ाकों ने उन अंतिम क्षेत्रों पर भी नियंत्रण कर लिया, जिसे उन्होंने एक महीने की घेराबंदी के बाद नियंत्रित नहीं किया था।

साथ ही तालिबान विद्रोहियों ने रविवार को उत्तरी अफगानिस्तान के कुंदुज प्रांत की राजधानी के अधिकांश हिस्से पर भी नियंत्रण कर लिया। प्रांतीय परिषद के दो सदस्यों ने बताया कि तालिबान ने एक दिन की लड़ाई के बाद गवर्नर कार्यालय और पुलिस मुख्यालय को नियंत्रण में ले लिया। उन्होंने बताया कि तालिबान ने इसके साथ ही मुख्य जेल इमारत पर भी कब्जा कर लिया जहां से तालिबान लड़ाकों सहित 500 कैदियों को रिहा कर दिया गया। यदि कुंदुज तालिबान के नियंत्रण में जाता है, तो यह तालिबान के लिए एक महत्वपूर्ण बढ़त होगी। यह 340,000 से अधिक की आबादी वाले देश के बड़े शहरों में से एक है।

- Advertisement -

प्रांतीय परिषद के सदस्य गुलाम रबानी रबानी ने बताया कि विद्रोहियों और सरकारी बलों के बीच लड़ाई शहर के हवाई अड्डे और अन्य हिस्सों में चल रही है। कुंदुज रणनीतिक जगह पर स्थित है, जहां से उत्तरी अफगानिस्तान के साथ-साथ लगभग 335 किलोमीटर दूर स्थित राजधानी काबुल तक अच्छी पहुंच है। कुंदुज से प्रांतीय परिषद के एक अन्य सदस्य मोहम्मद युसूफ अयूबी ने भी कहा कि अफगान सेना केवल हवाई अड्डे और मुख्य सेना बैरकों को नियंत्रित करती है और तालिबान उन क्षेत्रों के अलावा कुंदुज के सभी क्षेत्रों को नियंत्रित करता है। ‘एसोसिएटेड प्रेस’ द्वारा प्राप्त एक वीडियो में तालिबान के सफेद झंडे को कुंदुज के मुख्य चौक में एक यातायात पुलिस के बूथ के ऊपर लहराते देखा गया। अयूबी ने कहा, ‘‘निर्दोष और गरीबों को कुंदुज और देश के अन्य हिस्सों में युद्ध की कीमत चुकानी होगी, सरकारी बल और तालिबान दोनों ही नागरिकों के दुश्मन हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘एक सुरक्षा प्रदान नहीं कर सकता है और दूसरा लोगों की सुरक्षा की परवाह नहीं करता है।’’

काबुल में अफगान सरकार ने इस बात से इनकार किया है कि उसने उत्तरी शहर गंवा दिया है। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता मीरवाइज स्तानकजई ने कहा कि अफगान सुरक्षा बलों की लड़ाई जारी है और उन्होंने कुंदुज के कुछ इलाकों को तालिबान से पहले ही वापस ले लिया है। उन्होंने इस बारे में और कोई जानकारी नहीं दी। अमेरिका और नाटो सैनिकों द्वारा देश से वापसी करने के साथ ही तालिबान के हमले बढ़ गए हैं। अफगान सुरक्षाबलों ने अमेरिका की सहायता से हवाई हमलों से जवाबी कार्रवाई की है। हालांकि लड़ाई ने आम नागरिकों के हताहत होने को लेकर चिंताएं बढ़ा दी हैं। तालिबान लड़ाके शनिवार को जावजान प्रांत के 10 में से नौ जिलों पर नियंत्रण के बाद इसकी राजधानी में दाखिल हुए। देश की 34 प्रांतीय राजधानियों में से कई को खतरा है क्योंकि तालिबान लड़ाके आश्चर्यजनक गति से अफगानिस्तान के बड़े इलाके को अपने नियंत्रण में करते जा रहे हैं।

इससे पहले पिछले हफ्ते तालिबान लड़ाकों ने दक्षिणी हेलमंद प्रांत की राजधानी लश्कर गाह के 10 पुलिस जिलों में से नौ पर कब्जा कर लिया था। वहां भारी लड़ाई जारी है तथा अमेरिका एवं अफगान सरकार के हवाई हमले भी जारी हैं, जिनमें से एक में एक स्वास्थ्य क्लीनिक और हाई स्कूल क्षतिग्रस्त हो गया। रक्षा मंत्रालय ने इसकी पुष्टि की कि हवाई हमले किए गए लेकिन कहा कि इसमें 54 विद्रोही मारे गए और 23 अन्य घायल हो गए। बयान में किसी क्लिनिक या स्कूल पर बमबारी किये जाने का कोई जिक्र नहीं किया गया। प्रांतीय परिषद के उपाध्यक्ष माजिद अखुंद ने कहा कि जब हमला किया गया उस समय ये इकाइयां तालिबान के नियंत्रण में थीं।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here