सिंगापुर अथॉरिटीज ने द कश्मीर फाइल्स फिल्म को बैन कर दिया है। उनका कहना है कि यह फिल्म अलग-अलग समुदायों में मतभेद को बढ़ावा दे सकती है। इतना ही नहीं इसे एकतरफा भी बताया गया है। कहा गया है कि इस समय चल रहे कश्मीर विवाद में हिंदुओं को सताया गया दिखाया गया है जबकि मुसलमानों का पक्ष वनसाइडेड है।

बता दें कि फिल्म 11 मार्च को भारत में रिलीज हुई थी। इंडिया में भी सोशल मीडिया पर इसको लेकर बहस छिड़ी रही। फिल्म को कई लोगों ने प्रोपागैंडा और मुसलमानों के खिलाफ बताया था। हालांकि फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर बंपर कमाई की है। 

अथॉरिटी ने कहा, बढ़ा सकती है दुश्मनी

सिंगापुर ने विवेक अग्निहोत्री के डायरेक्शन में बनी फिल्म द कश्मीर फाइल्स को बैन कर दिया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिंगापुर अथॉरिटी का माना है कि फिल्म एक तरफा है। सिंगापुर ने इन्फोकॉम मीडिया डेवलपमेंट अथॉरिटी, मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर, कम्यूनिटी ऐंड यूथ और मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स के साथ मिलकर एक जॉइंट स्टेटमेंट जारी किया है। इसमें कहा गया है कि फिल्म अलग-अलग समुदायों के बीच दुश्मनी बढ़ा सकती है।

हमारी अलग-अलग धर्म को मानने वाली सोसायटी की धार्मिक एकता भंग हो सकती है। क्लासीफिकेशन गाइडलाइन्स का हवाला देते हुए यह कहा गया कि कोई भी चीज जो सिंगापुर में जाति और धार्मिक कम्युनीटीज को बदनाम करने की कोशिश करता है, उसका क्लासिफकेशन नहीं किया जा सकता। 

भारत के प्रधानमंत्री कर चुके हैं तारीफ

द कश्मीर फाइल्स 1990 में घाटी से हुए कश्मीरी पंडितों के विस्थापन की कहानी है। भारत में फिल्म द कश्मीर फाइल्स की तारीफ कई लोगों ने की जिनमें भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हैं। बीजेपी- शासित ज्यादातर राज्यों में फिल्म टैक्स फ्री थी। मूवी 300 करोड़ क्लब में अपनी जगह बना चुकी है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment